--Advertisement--

कनाडाई फर्म और बिल गेट्स की ईको फ्रेंडली मुहिम, ऐसे बनेगा फ्यूल

कनाडा की कार्बन इंजीनियर फर्म ने वैंकूवर शहर के निकट दुनिया का ऐसा प्लांट लगाया है। मंडे पॉ़जिटिव में देखें दिलचस्प खबर.

Dainik Bhaskar

Feb 05, 2018, 01:46 PM IST
An eco-friendly initiative by Canada firm and Bill gates

वैंकूवर| कनाडा की कार्बन इंजीनियर फर्म ने वैंकूवर शहर के निकट दुनिया का ऐसा प्लांट लगाया है, जो हवा से कार्बन डाई ऑक्साइड को खींचकर सिंथेटिक हाइड्रोकॉर्बन फ्यूल बनाएगा। इस ईंधन से प्रदूषण बिल्कुल भी नहीं होगा। इस इको फ्रेंडली मुहिम में बिल गेट्स फाउंडेशन ने भी कनाडाई फर्म को पैसे दिए हैं। यह प्लांट 1 साल में करीब 10 लाख टन कार्बन डाई ऑक्साइड को सोखेगा। जो कि करीब 2.5 लाख गाड़ियों से निकले कार्बन फुटप्रिंट के बराबर होगा। फर्म का लक्ष्य एक प्लांट से एक दिन में 10 हजार बैरल हाइड्रोकार्बन फ्यूल बनाने का है।

1 टन कार्बन को अवशोषित करने का खर्च 6400 रु

वैज्ञानिकों के मुताबिक सीधे हवा से एक टन कार्बन डाई ऑक्साइड अवशोषित करने में करीब 25 हजार रुपए से 64 हजार रुपए का खर्च आता है। पर कार्बन इंजीनियरिंग फर्म के वैज्ञानिकों का कहना है कि इस प्लांट में ये खर्च महज 6400 रुपए प्रति टन ही होगा।

70 करोड़ में बनकर तैयार हुआ है प्लांट

यह प्रोजेक्ट 2009 में शुरू हुआ था। अब प्लांट बनकर तैयार है। फर्म फ्यूल की बिक्री 2019 में शुरू करेगी। कार्बन इंजीनियरिंग फर्म और बिल गेट्स फाउंडेशन ने इस प्रोजेक्ट में 40 करोड़ रु. का निवेश किया है। सरकार ने भी इसमें 30 करोड़ रु. दिए हैं। यह आइडिया हार्वर्ड के वैज्ञानिक डेविड केथ का है। पूरा प्रोजेक्ट उन्हीं की देखरेख में चल रहा है। वह कहते हैं कि यह प्रदूषण खत्म करने की शुरुआत है। तकनीक आने वाले समय में दुनिया को प्रदूषण मुक्त करेगी।

X
An eco-friendly initiative by Canada firm and Bill gates
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..