--Advertisement--

सड़क पर ऐसे जम गए जानवर, -56 डिग्री पहुंचा कजाखिस्तान का पारा

हाल ही में कजाखस्तान का एक ऐसा वीडियो आया जिसे देखकर लोग दहल गए हैं।

Danik Bhaskar | Jan 26, 2018, 12:06 PM IST

इन दिनों दुनिया के कई देश जानलेवा ठंड की चपेट में है। जिससे इंसान ही नहीं जानवर भी प्रभावित हैं। हाल ही में कजाखस्तान का एक ऐसा वीडियो आया जिसे देखकर लोग दहल गए हैं। यहां एक कस्बे में तापमान -56 डिग्री सेल्सियस तक गिर गया, जिससे बाहर मौजूद जानवरों की जमकर मौत हो गई। ऐसे हुआ ये सब...

- इस वीडियो में दिखाया गया कि कैसे एक कुत्ता और खरगोश किसी सुरक्षित जगह जाने की कोशिश में फंस गए और उनकी जमने से मौत हो गई। हाल ही में एक सोशल एक्टिविस्ट ने ये वीडियो शेयर किया है।

- इस ग्रुप ने बताया कि इस जानलेवा ठंड में वे ऐसे जानवरों को बचाने की कोशिश कर रहे हैं। एक एक्टिविस्ट ने कहा, हम शाम से ही ऐसे जानवरों की खोज में निकल जाते हैं, जो ऐसी हालत में फंस जाते हैं, हम तत्काल उन्हें गर्म रखने की कोशिश करते हैं। उन्हें तत्काला फर्स्ट ऐड पहुंचाते हैं।

सबसे ठंडी जगह में पारा -62 डिग्री
- रूस के ओम्याकॉन कस्बे में पिछले हफ्ते पारा माइनस 62 डिग्री सेल्सियस के करीब ही रहा। जबकि, इसे धरती पर रहने के लिहाज से सबसे ठंडी जगह माना जाता है। यहां सर्दी के मौसम में औसत टेम्प्रेचर -50 डिग्री सेल्सियस के आस-पास रहता है। हालांकि, इसके बावजूद इस टाउन में करीब 500 लोग रहते हैं।

लोग खाते हैं घोड़े का मीट

- यहां रहने वाले लोगों के खाने से लेकर रहने के तरीके तक सब खास है। इतनी सर्दी के चलते वो सिर्फ वो जिंदा रहने के लिए सिर्फ मीट खाते हैं। वो भी रेंडियर और घोड़े का मीट खाते हैं।

ऐसे में भी बंद नहीं होते स्कूल

- इस टाउन में बच्चों के लिए एक स्कूल भी है, लेकिन वो कड़ाके की ठंड में भी चलता है। उसे तब तक नहीं बंद किया जाता, जब तक पारा -52 डिग्री सेल्सियस नहीं पहुंच जाता। इस ठंड में यहां पेन की इंक से लेकर ग्लास में पीने के पानी तक सबकुछ जम जाता है। यहां मोबाइल फोन सर्विस अब तक शुरू ही नहीं हो पाई है।

आगे की स्लाइड्स में देखें, कैसे जम गए ये जानवर...