Hindi News »Khabre Zara Hat Ke »Do You Know» Virginity That Cause Ban Of Woman Driving In Saudi Arab

वर्जिनिटी से जुड़ी है इस देश में महिलाओं की ड्राइविंग पर पाबंदी, ऐसे मिला हक

पुरुषों की तरह महिलाओं की ड्राइविंग भी अब आम है। लेकिन सउदी अरब एक ऐसा देश है जहां सदियों से महिलाओं की ड्राइविंग पर पाब

dainikbhaskar.com | Last Modified - Dec 19, 2017, 10:13 AM IST

पुरुषों की तरह महिलाओं की ड्राइविंग भी अब आम है। लेकिन सऊदी अरब एक ऐसा देश है जहां सदियों से महिलाओं की ड्राइविंग पर पाबंदी थी। वहां महिलाओं की ड्राइविंग को वर्जिनिटी से जोड़कर देखा जाता था। ये माना जाता था कि ड्राइविंग करने से महिलाएं पुरुषों के संपर्क में आएंगी और उनकी वर्जिनिटी खत्म हो जाएगी।

महिलाओं ने किया इस कानून का विरोध

पहली बार 6 नवंबर 1990 को 47 महिलाओं ने सार्वजनिक रूप से इस कानून का विरोध किया जिन्हें गिरफ्तार कर लिया गया। 2011 में ड्राइविंग के खिलाफ एक अभियान चला जिसे वीमेन टू ड्राइव मूवमेंट कहा गया। इस अभियान के तहत दर्जनों महिलाओं ने गाड़ी चलाते हुए अपना वाीडियो बनाया और उसे सोशल मीडिया पर शेयर किया।

महिलाओं को ऐसे मिला ड्राइविंग का हक

सऊदी अरब की सोशल एक्टिविस्ट लुजैन अल हथलौल और मायसा अल अमौदी को 1 दिसंबर 2014 में कार चलाने के आरोप में गिरफ्तार किया गया। इसके बाद अंतराष्ट्रीय मानवाधिकार संस्था, एमनेस्टी इंटरनेशनल और दुनिया के अन्य मानवाधिकार संगठनों ने सऊदी अरब की कड़ी आलोचना की। आखिरकार 73 दिनों की कैद के बाद इन दोनों सामाजिक कार्यकर्ताओं को रिहा कर दिया गया। फिर सऊदी अरब के शाह सलमान बिन अब्दुल अजीज अल सऊद ने एक शाही फरमान जारी करते हुए महिलाओं को ड्राइविंग की इजाजत दी।

आगे की स्लाइड्स में देखिए महिलाओं की ड्राइविंग पर पाबंदी का विरोध करती हुई सऊदीअरब की महिलाओं के फोटोज...

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Do You Know

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×