Hindi News »Khabre Zara Hat Ke »OMG» Woman Who Save From Tsunami Explain Disasater Of Cyclone

आंखों के सामने आज भी है वो मंजर, जब मौत बनकर आई थी सुनामी

सुनामी एक ऐसा तूफान जिसकी वजह से लाखों लोग बेघर हुए। इन्हीं में से एक थी फौजिया जिसने सुनामी में अपने पति, पेरेंट्स

dainikbhaskar.com | Last Modified - Dec 27, 2017, 11:02 AM IST

26 दिसंबर का दिन सुनामी के लिए याद किया जाता है। सुनामी एक ऐसा तूफान जिसकी वजह से लाखों लोग बेघर हुए। सुनामी को जिन लोगों ने देखा उनके दिल में आज भी अपने परिवार को खो देने का गम है। इस तूफान का खौफनाक मंजर इंडोनेशिया में रहने वाली 44 साल की फौजिया ने भी देखा था। फौजिया बता रही हैं सुनामी का आंखों देखा हाल।

ऐसा लगा जैसे सामने मौत खड़ी है

इंडोनेशिया के बांदा ऐसे में रहने वाली फौजिया अपने पांच बच्चों के साथ घर पर थीं। फौजिया के पति बाइक से मार्केट गए हुए थे। फौजिया कहती हैं कि मुझे जरा भी अंदाजा नहीं था कि बाहर क्या हो रहा है। मैंने अपने घर की दूसरी मंजिल से देखा तो समुद्र में काली लहरें उठ रही थीं। पहले तो मुझे ये समझ में ही नहीं आया कि ये पानी है या तेल। लेकिन तूफान इतना खतरनाक था कि जल्दी ही मुझे इस बात का अहसास हो गया कि मौत मेरे सामने खड़ी है। मुझे लगा जैसे मैं और मेरे बच्चे मरने वाले हैं। तूफान को देखते हुए मेरा बेटा छत पर चढ़ गया और जल्दी ही छत के अंदर एक छेद किया। उसके बाद एक बोट में बैठाकर मुझे और मेरे बच्चों को घर से निकाला गया।

चारों ओर लाशें तैर रहीं थीं

मुझे इस बात का फिक्र की थी मेरे पेरेंट्स और पति इस वक्त कहां होंगे। उस वक्त तूफान का मंजर बहुत खतरनाक था। मैं यही दुआ कर रही थी कि हम जिंदा बच जाए। मैं और मेरे बच्चे तो इस तूफान से बच गए, लेकिन मेरे पति और पेरेंट्स नहीं बच पाए। सुनामी का तूफान उन्हें बहा ले गया।

आगे की स्लाइड्स में देखिए सुनामी से बच निकली फौजिया और इस तूफान की फोटोज...

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: aankhon ke samne aaj bhi hai vo mnjr, jb maut bankar aaee thi sunaami
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From OMG

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×