--Advertisement--

जल्दी मर जाते हैं ऐसी आदतों वाले लोग, रिसर्च में हुए चौंकाने वाले खुलासे

हाल ही में अमेरिकी साइंटिस्टों ने रिसर्च के द्वारा खुलासा किया है कि ज्यादा गुस्सा करने वाले लोगों की भी समय से पहले मौत

Dainik Bhaskar

Nov 27, 2017, 12:00 AM IST
 Lowa State University में की गई है रिसर्च।  Lowa State University में की गई है रिसर्च।

हाल ही में अमेरिकी साइंटिस्ट्स की एक रिसर्च में खुलासा हुआ है कि ज्यादा गुस्सा करने वाले लोगों की समय से पहले मौत हो सकती है। लोगों में बढ़ती गुस्से की टेंडेंसी पर साइंटिस्ट्स द्वारा की गई स्टडी में गुस्से के कारण बॉडी पर कई निगेटिव इम्पैक्ट सामने आए। ऐसे गुस्सा बन जाता है मौत की वजह ...

- Lowa State University में की गई रिसर्च के मुताबिक गुस्सा करने वाले 20 से 40 साल के व्यक्ति की मौत गुस्सा नहीं करने वाले व्यक्ति के मुकाबले डेढ़ गुना जल्दी हो सकती है। गुस्सा करने पर व्यक्ति के शरीर में कई तरह के केमिकल बदलाव होते हैं। इससे स्ट्रेस से लेकर कई तरह के मनोरोग हो सकते हैं।

- असल में गुस्सा करने पर शरीर में तेजी से adrenaline बहता है। स्ट्रेस और टेंशन के वक्त बार-बार adrenaline के बढ़ने से डीएनए खराब हो सकता है। इससे जानलेवा बीमारी और मौत भी हो सकती है।

आगे की स्लाइड्स में देखें, गुस्सा करने पर शरीर पर होता है ऐसा असर...

ज्यादा गुस्सा करने वाले लोगों को नींद न आने की भी बीमारी होती है। गुस्से की वजह से दिमाग के कई हिस्से ज्यादा एक्टिव रहते हैं, जिस वजह से व्यक्ति रिलैक्स नहीं हो पाता। ज्यादा गुस्सा करने वाले लोगों को नींद न आने की भी बीमारी होती है। गुस्से की वजह से दिमाग के कई हिस्से ज्यादा एक्टिव रहते हैं, जिस वजह से व्यक्ति रिलैक्स नहीं हो पाता।
ज्यादा गुस्सा करने से लोगों को सिर दर्द की समस्या भी हो सकती है, क्योंकि गुस्सा करने से बॉडी में स्ट्रेस हॉर्मोन cortisol के साथ-साथ adrenaline and testosterone भी बढ़ जाता है। ज्यादा गुस्सा करने से लोगों को सिर दर्द की समस्या भी हो सकती है, क्योंकि गुस्सा करने से बॉडी में स्ट्रेस हॉर्मोन cortisol के साथ-साथ adrenaline and testosterone भी बढ़ जाता है।
Harvard School of Public Health की रिसर्च के मुताबिक गुस्सा करने वालों को गुस्सा नहीं करने वालों के मुकाबले फेफड़ों के रोग ज्यादा होते हैं। Harvard School of Public Health की रिसर्च के मुताबिक गुस्सा करने वालों को गुस्सा नहीं करने वालों के मुकाबले फेफड़ों के रोग ज्यादा होते हैं।
X
 Lowa State University में की गई है रिसर्च। Lowa State University में की गई है रिसर्च।
ज्यादा गुस्सा करने वाले लोगों को नींद न आने की भी बीमारी होती है। गुस्से की वजह से दिमाग के कई हिस्से ज्यादा एक्टिव रहते हैं, जिस वजह से व्यक्ति रिलैक्स नहीं हो पाता।ज्यादा गुस्सा करने वाले लोगों को नींद न आने की भी बीमारी होती है। गुस्से की वजह से दिमाग के कई हिस्से ज्यादा एक्टिव रहते हैं, जिस वजह से व्यक्ति रिलैक्स नहीं हो पाता।
ज्यादा गुस्सा करने से लोगों को सिर दर्द की समस्या भी हो सकती है, क्योंकि गुस्सा करने से बॉडी में स्ट्रेस हॉर्मोन cortisol के साथ-साथ adrenaline and testosterone भी बढ़ जाता है।ज्यादा गुस्सा करने से लोगों को सिर दर्द की समस्या भी हो सकती है, क्योंकि गुस्सा करने से बॉडी में स्ट्रेस हॉर्मोन cortisol के साथ-साथ adrenaline and testosterone भी बढ़ जाता है।
Harvard School of Public Health की रिसर्च के मुताबिक गुस्सा करने वालों को गुस्सा नहीं करने वालों के मुकाबले फेफड़ों के रोग ज्यादा होते हैं।Harvard School of Public Health की रिसर्च के मुताबिक गुस्सा करने वालों को गुस्सा नहीं करने वालों के मुकाबले फेफड़ों के रोग ज्यादा होते हैं।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..