Hindi News »Lifestyle »Food» Guru Nanak Started Langar Tradition Here Is Worlds Largest Food Fest

गुरु नानक ने शुरु की थी लंगर की परंपरा, ये है दुनिया का सबसे बडा लंगर

आदि गुरु नानक देव जी ने लगभग 15 वीं शताब्दी में लंगर की शुरुआत की थी। गुरु नानक जहां भी गए जमीन पर बैठकर ही भोजन करते थे

dainikbhaskar.com | Last Modified - Nov 04, 2017, 10:41 AM IST

  • गुरु नानक ने शुरु की थी लंगर की परंपरा, ये है दुनिया का सबसे बडा लंगर
    +15और स्लाइड देखें

    फूड डेस्क। आदि गुरु नानक देव जी ने लगभग 15 वीं शताब्दी में लंगर की शुरुआत की थी। गुरु नानक जहां भी गए, जमीन पर बैठकर ही भोजन करते थे। ऊंच-नीच, जात-पात और अंधविश्वास को समाप्त करने के लिए सभी लोगों के एक साथ बैठकर भोजन करने की परंपरा शुरू की। तीसरे गुरु अमरदास जी ने लंगर की इस परंपरा को आगे बढ़ाया।

    क्या होता है लंगर?

    लंगर में विभिन्न जातियों के लोग, छोटे-बड़े सब एक ही स्थान पर बैठकर भोजन करते हैं। पूरी दुनिया में जहां भी सिख बसे हुए हैं, उन्होंने इस लंगर प्रथा को कायम रखा है। सिख समुदाय में खुशी के मौकों के अलावा त्योहार, गुरु पर्व, मेले व शुभ अवसरों पर लंगर आयोजित किया जाता है। इसके अलावा गुरुद्वारों मेंं भी नियमित लंगर होता है।

    कैसे तैयार होता है लंगर?

    लंगर तैयार करने की विधि बहुत ही सरल और पवित्र होती है। जहां पर भी लंगर लगाना हो, वहां पर अस्थायी चूल्हा बनाकर उसके इर्द-गिर्द मिट्टी का लेप कर दिया जाता है। इसमें स्वयंसेवकों खास तौर पर महिलाओं की भूमिका काफी सराहनीय रहती है। सभी लोग मिल-जुल कर सामूहिक रूप से आटा गूंथना, सब्जी काटना, रोटी-दाल पकाना जैसे काम करते हैं। हालांकि, अब इन सब कामों के लिए आधुनिक भट्टियों और मशीनों का इस्तेमाल भी होने लगा है।

    कहां पर होता है दुनिया का सबसे बड़ा लंगर?

    अमृतसर के स्वर्ण मंदिर यानी गोल्डन टेम्पल में दुनिया का सबसे बड़ा लंगर आयोजित होता है। यहां के किचन में रोज हजारों लोगों के लिए खाना बनता है। इस जगह पर अमीर-गरीब, छोटे-बड़े, ऊंच-नीच का कोई भेदभाव नहीं है। खास मौकों पर इस किचन में 2 लाख रोटियां तक बनती हैं। आज गुरु नानक देव जी के प्रकाश पर्व के अवसर पर हम बता रहे हैं दुनिया के सबसे बड़े लंगर के बारे में।

    आगे की स्लाइड्स में जानिए कहां होता है दुनिया का सबसे बड़ा लंगर...

    (खिचड़ी खाने के क्या फायदे हैं, जानने के लिए क्लिक करें आखिरी स्लाइड पर)

  • गुरु नानक ने शुरु की थी लंगर की परंपरा, ये है दुनिया का सबसे बडा लंगर
    +15और स्लाइड देखें
  • गुरु नानक ने शुरु की थी लंगर की परंपरा, ये है दुनिया का सबसे बडा लंगर
    +15और स्लाइड देखें
  • गुरु नानक ने शुरु की थी लंगर की परंपरा, ये है दुनिया का सबसे बडा लंगर
    +15और स्लाइड देखें
  • गुरु नानक ने शुरु की थी लंगर की परंपरा, ये है दुनिया का सबसे बडा लंगर
    +15और स्लाइड देखें
  • गुरु नानक ने शुरु की थी लंगर की परंपरा, ये है दुनिया का सबसे बडा लंगर
    +15और स्लाइड देखें
  • गुरु नानक ने शुरु की थी लंगर की परंपरा, ये है दुनिया का सबसे बडा लंगर
    +15और स्लाइड देखें
  • गुरु नानक ने शुरु की थी लंगर की परंपरा, ये है दुनिया का सबसे बडा लंगर
    +15और स्लाइड देखें
  • गुरु नानक ने शुरु की थी लंगर की परंपरा, ये है दुनिया का सबसे बडा लंगर
    +15और स्लाइड देखें
  • गुरु नानक ने शुरु की थी लंगर की परंपरा, ये है दुनिया का सबसे बडा लंगर
    +15और स्लाइड देखें
  • गुरु नानक ने शुरु की थी लंगर की परंपरा, ये है दुनिया का सबसे बडा लंगर
    +15और स्लाइड देखें
  • गुरु नानक ने शुरु की थी लंगर की परंपरा, ये है दुनिया का सबसे बडा लंगर
    +15और स्लाइड देखें
  • गुरु नानक ने शुरु की थी लंगर की परंपरा, ये है दुनिया का सबसे बडा लंगर
    +15और स्लाइड देखें
  • गुरु नानक ने शुरु की थी लंगर की परंपरा, ये है दुनिया का सबसे बडा लंगर
    +15और स्लाइड देखें
  • गुरु नानक ने शुरु की थी लंगर की परंपरा, ये है दुनिया का सबसे बडा लंगर
    +15और स्लाइड देखें
  • गुरु नानक ने शुरु की थी लंगर की परंपरा, ये है दुनिया का सबसे बडा लंगर
    +15और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From food

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×