--Advertisement--

इन 5 तरह के लोगों को नुकसान पहुंचा सकता है अश्वगंधा

आयुर्वेद एक्सपर्ट डॉ. गोविंद पारिक बता रहे हैं कुछ ऐसे पेशेन्ट्स के बारे में जिन्हें अश्वगंधा अवॉइड करना चाहिए।

Danik Bhaskar | Jan 27, 2018, 12:04 AM IST

यूटिलिटी डेस्क। अश्वगंधा को हेल्थ के लिए काफी फायदेमंद माना जाता है। आयुर्वेद में भी इसके कई फायदे बताए गए हैं। लेकिन कुछ लोगों को यह नुकसान भी पहुंचा सकता है। इसलिए इसे लेने से पहले किसी आयुर्वेद एक्सपर्ट की सलाह ले लेनी चाहिए। आयुर्वेद एक्सपर्ट डॉ. गोविंद पारिक बता रहे हैं कुछ ऐसे पेशेन्ट्स के बारे में जिन्हें अश्वगंधा अवॉइड करना चाहिए या डॉक्टर की सलाह से लेना चाहिए।

आगे की स्लाइड्स पर जानिए किन लोगों को अश्वगंधा नुकसान पहुंचा सकता है...

इन्सोमनिया के पेशेन्ट्स
अश्वगंधा में मौजूद कम्पाउंड ब्रेन को एक्टिव करते हैं। अगर इन्सोमनिया के पेशेन्ट्स रात को सोने से पहले इसकी चाय पीते हैं तो इससे को नींद न आने की प्रॉब्लम बढ़ सकती है।

Low BP वाले पेशेन्ट्स
अश्वगंधा BP को कम करता है। जिन्हें Low BP की प्रॉब्लम है अगर वे इसे लेते हैं तो उनका BP और कम हो सकता है।

Low शुगर वाले पेशेन्ट्स
अश्वगंधा बॉडी के शुगर लेवल को कम करता है। जिन्हें Low शुगर की प्रॉब्लम है अगर वे इसे लेते हैं तो प्रॉब्लम और बढ़ सकती है।

थाइरॉयड के पेशेन्ट्स
अश्वगंधा थाइरॉयड हॉर्मोन के लेवल को बढ़ाता है। अगर थाइरॉयड के पेशेन्ट्स इसे लेते हैं तो प्रॉब्लम और बढ़ सकती है।

प्रेग्नेंट महिलाएं
अगर प्रेग्नेंट महिलाएं अश्वगंधा लेती हैं तो उनमें एस्ट्रोजन हॉर्मोन का लेवल बढ़ जाता है। ऐसे में ब्लीडिंग या सिरदर्द की प्रॉब्लम बढ़ सकती है।