--Advertisement--

मलेरिया से फाइट करेगा ये वैक्सीन, हजारों लोगों की बचाएगा जान

मलेरिया से लड़ने वाला वैक्सीन सब लोगों के लिए जल्दी ही उपलब्ध हो सकता है।

Danik Bhaskar | Feb 09, 2018, 01:00 PM IST

हेल्थ डेस्क। मलेरिया से लड़ने वाला वैक्सीन सब लोगों के लिए जल्दी ही उपलब्ध हो सकता है। पॉयलट प्रोजेक्ट के तौर पर इसका तीन अफ्रीकी देशों घाना, कीनिया और मलावी में व्यापक पैमाने पर यूज करने की तैयारी की जा रही है। गौरतलब है कि इस वैक्सीन का विकास साल 2015 में किया गया था। हालांकि यह कितना प्रभावी है, इसको लेकर स्वयं WHO आश्वस्त नहीं है। इसीलिए वर्ल्ड मलेरिया डे से इन तीनों देशों में इसका परीक्षण करवाया जा रहा है। इसके नतीजों के आधार पर भविष्य की नीति बनाई जाएगी। गौरतलब है कि मलेरिया के कारण अफ्रीकी देशों में बड़ी संख्या में लोगों की मौत हो जाती है।


RTS-S नाम का यह वैक्सीन हमारे इम्युन सिस्टम को मलेरिया के पैरासाइट (परजीवी) पर अटैक करने में समर्थ बनाता है। वर्ल्ड हेल्थ आर्गनाइजेशन (WHO) ने भी इस वैक्सीन का समर्थन करते हुए कहा है कि इससे भविष्य में हजारों लोगों की जान बचाए जाने की उम्मीद बंधी है।


अफ़्रीका के लिए WHO के रिजनल डायरेक्टर डॉ. मात्शीडिसो मोएती ने कहा कि मलेरिया के टीके के पायलट प्रोजेक्ट से हमें जो सूचनाएं मिलेंगी, उनसे हमें टीके के व्यापक इस्तेमाल संबंधी फ़ैसले लेने में मदद मिलेगी। इससे हजारों लोगों की जान बचाने बचाई जा सकेगी।


कितनी खुराक जरूरी होगी?

इस टीके की चार खुराकें दी जाएंगी। पहली तीन खुराक एक-एक माह के गैप के बाद दी जाएगी। चौथी खुराक 18वें महीने में दी जाएगी। पायलट प्रोजेक्ट में घाना, कीनिया और मलावी में 5 से 17 महीने के बीच के करीब साढ़े सात लाख बच्चों को शामिल किया जाएगा।