हेल्थ एंड ब्यूटी

--Advertisement--

यूं ही नहीं बन जाते बेस्ट बेबी प्रोडक्ट्स, 5 लेवल सेफ़्टी पर ख़ास ध्यान

जॉनसन एंड जॉनसन बेबी की स्किन से रिलेटेड रिसर्च के बाद ही अपना हर प्रोडक्ट तैयार करती है।

Danik Bhaskar

Jan 19, 2018, 11:41 PM IST

एडवरटोरियल। कोई भी बेबी प्रोडक्ट आपके बेबी के लिए बेस्ट तब तक नहीं बन सकता, जब तक की उसे बनाने वाली कंपनी को बेबी की स्किन की जरूरतों के बारे में पता नहीं हो। जॉनसन एंड जॉनसन बेबी की स्किन से रिलेटेड रिसर्च के बाद ही अपना हर प्रोडक्ट तैयार करती है। बेबी स्किन के बारे में 90 प्रतिशत रिसर्च केवल जॉनसन एंड जॉनसन ने ही की हैं। यह एक बात इनके प्रोडक्ट्स को दूसरों से अलग करती है।

जब बात आती है शिशु की सुरक्षा और उसकी स्किन की देखभाल की तो सभी का विश्वास उमड़ता है Johnson's Baby पर, जो अपने हर प्रोडक्ट की सुरक्षा को सुनिश्चित करते है। उनके लिए ये प्रक्रिया कभी रुकती नहीं है।

गुणवत्ता सुधारने का अचूक फॉर्मूला
ये प्रॉसेस पांच लेवल में पूरी होती है जिसे five level safety assurance process कहा गया है। आइए, इसके बारे में विस्तार से जानते हैं कि किस तरह Johnson's अपने बेबी प्रोडक्ट की सेफ्टी सुनिश्चित करता है।

Step 1 – सप्लायर
सुरक्षित प्रोडक्ट्स की शुरुआत हमेशा ही सुरक्षित और सर्वोत्तम कच्चे पदार्थ के साथ होती है। इसीलिए Johnson's पहले अपने सप्लायर्स और उनके कच्चे पदार्थों को अच्छे से परखता है और सिर्फ उसी सामग्री और सप्लायर्स को स्वीकार करता है जो सुरक्षा के पैमाने पर खरे उतरते हैं।

आगे की स्लाइड्स में जानिए Johnson's के सेफ़्टी के बाकी के लेवल्स के बारे में

Step 2 – सामग्री का आंकलन

हर सामग्री को कई बार बारीकी से जांचकर देखा जाता है कि वो पर्सनल यूज़ के प्रोडक्ट्स में एकदम या 100%  सुरक्षित रूप से उपयोग करने लायक है या नहीं। किसी भी तरह की मिलावट या अशुद्धि तो नहीं है।
 

 

Step 3 - फॉर्मूले का परीक्षण

100% सेफ पदार्थों से फॉर्मूला बनता है। फॉर्मूला बनाने के बाद उसे विशेषज्ञों द्वारा क्लिनकली परखा जाता है। कड़े क्लीनिकल परीक्षणों के बाद ही हर Johnson's  बेबी प्रोडक्ट बेबी के लिए सौम्य प्रमाणित होता है। कई तरह के डॉक्टर और विशेषज्ञ – शिशुओं के डॉक्टर, स्किन के डॉक्टर, आंखों के डॉक्टर, क्लिनीकल विशेषज्ञ Johnson's  बेबी प्रोडक्ट्स का कड़ा निरीक्षण करते हैं और त्वचा और आंखों में जलन जैसी संभावनाओं के लिए उन्हें परखते हैं।


 

Step-4  असल जिंदगी में प्रोडक्ट का इस्तेमाल

इसमें उन तरीकों का टेस्ट किया जाता है, जिनसे माताएं या घरों में लोग जॉनसन एंड जॉनसन के प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल करते हैं। इसके अलावा इन प्रोडक्ट्स को लेबोरेटरी में भी अलग-अलग स्थितियों जैसे तेज गर्मी, सर्दी और ह्यूमिडिटी में टेस्ट किया जाता है। 
 

 

Step 5 – लगातार बेहतर बनाना

प्रोडक्ट तैयार होने के बाद बिक्री के लिए स्टोर्स पर पहुंच जाता है, लेकिन यहां पर जॉनसन एंड जॉनसन का काम खत्म नहीं होता। Johnson's की नजर फीडबैक पर भी रहती है, चाहे वो कस्टमर सर्विस कॉल के जरिए हो, सोशल मीडिया के जरिए हो या फिर किसी और प्लेटफॉर्म के जरिए।
इसके पीछे सिर्फ एक ही मकसद होता है और वो यह कि जो भी नई और ठीक जानकारी मिले, उससे प्रोडक्ट को ज्यादा सुरक्षित और गुणों से भरपूर बनाया जा सके। आखिर आप की ही तरह Johnson's  भी आपके बेबी को देना चाहे सिर्फ़ सबसे Best.

Click to listen..