Hindi News »Lifestyle »Health And Beauty» Here Are 5 Best Homeopathic Medicine For Gall Stones

गाल ब्लैडर की पथरी का होम्योपैथिक इलाज

गाल स्टोन या गाल ब्लैडर की पथरी बॉडी में कोलेस्ट्रॉल का लेवल बढ़ जाने के कारण बन सकती है।

dainikbhaskar.com | Last Modified - Oct 27, 2017, 11:10 AM IST

गाल ब्लैडर की पथरी का होम्योपैथिक इलाज
हेल्थ डेस्क।गाल स्टोन या गाल ब्लैडर की पथरी बॉडी में कोलेस्ट्रॉल का लेवल बढ़ जाने के कारण बन सकती है। होम्योपैथिक प्रैक्टिशनर डॉ. जूही गुप्ता के मुताबिक गॉल ब्लैडर एक बंद नली है उसकी कोई ओपनिंग नहीं है। उसमें जो पदार्थ बन रहा था वह क्रिस्टल में बदल जाता है, इससे पथरी की प्रॉब्लम हो सकती है। इसका पेन बहुत सीवियर होता है। अगर नली ब्लॉक होती है तो यह दिक्कत की बात है मॉडर्न सिस्टम में ऑपरेशन ही एकमात्र इलाज है।

क्या है गॉल ब्लैडर की पथरी का होम्योपैथिक इलाज?

एम्स के आयुष डिपार्टमेंट के होम्योपैथी एक्सपर्ट डॉ. अजय सिंह बघेल के मुताबिक गॉल ब्लैडर की पथरी का होम्योपैथी में काफी बढ़िया इलाज है। इसमें मदर टिंक्चर के अलावा होम्योपैथी दवा की गोलियां भी एक महीने तक खाने से फायदा होता है।

गॉल ब्लैडर की पथरी में कौन सी होम्योपैथिक दवा लें?

1. बर्बरिस वल्गरिस मदर टिंक्चर 15 बूंद और सारसा पेरिल्ला मदर टिंक्चर की 15 बूंदें एक चौथाई कप पानी में मिलाकर दिन में तीन बार पिएं।
2. इसके साथ ही पंद्रह मिनट का गैप रखकर लाइकोपोडियम 200 पोटेंसी की होम्योपैथिक मेडिसिन दिन में तीन बार खाएं।
किन बातों का रखें ध्यान?
इलाज के दौरान कॉफी, पिपरमिंट, तेज गंध वाले फूड, ज्यादा ऑयली, फैटी, नॉनवेज न खाएं।
होम्योपैथी दवा लेने से आधा घंटा पहले और बाद में कुछ न खाएं।
सिगरेट शराब और नशे से परहेज करें।
आगे की स्लाइड में जानें गॉल ब्लैडर की पथरी के लिए कुछ और होम्योपैथिक और नैचुरल रेमेडीज...
(नोट : यह जानकारी होम्योपैथिक डॉक्टर्स की सलाह से दी गई है लेकिन किसी भी दवा का इस्तेमाल करने से पहले अपने डॉक्टर और एक्सपर्ट से राय जरूर ले लें।)
India Result 2018: Check BSEB 10th Result, BSEB 12th Result, RBSE 10th Result, RBSE 12th Result, UK Board 10th Result, UK Board 12th Result, JAC 10th Result, JAC 12th Result, CBSE 10th Result, CBSE 12th Result, Maharashtra Board SSC Result and Maharashtra Board HSC Result Online
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: gaaal blaidar ki pthri ka homyopaithik ilaaj
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Health and Beauty

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×