--Advertisement--

गाल ब्लैडर की पथरी का होम्योपैथिक इलाज

गाल स्टोन या गाल ब्लैडर की पथरी बॉडी में कोलेस्ट्रॉल का लेवल बढ़ जाने के कारण बन सकती है।

Dainik Bhaskar

Oct 27, 2017, 11:10 AM IST
Here are 5 Best Homeopathic Medicine for Gall Stones
हेल्थ डेस्क। गाल स्टोन या गाल ब्लैडर की पथरी बॉडी में कोलेस्ट्रॉल का लेवल बढ़ जाने के कारण बन सकती है। होम्योपैथिक प्रैक्टिशनर डॉ. जूही गुप्ता के मुताबिक गॉल ब्लैडर एक बंद नली है उसकी कोई ओपनिंग नहीं है। उसमें जो पदार्थ बन रहा था वह क्रिस्टल में बदल जाता है, इससे पथरी की प्रॉब्लम हो सकती है। इसका पेन बहुत सीवियर होता है। अगर नली ब्लॉक होती है तो यह दिक्कत की बात है मॉडर्न सिस्टम में ऑपरेशन ही एकमात्र इलाज है।

क्या है गॉल ब्लैडर की पथरी का होम्योपैथिक इलाज?

एम्स के आयुष डिपार्टमेंट के होम्योपैथी एक्सपर्ट डॉ. अजय सिंह बघेल के मुताबिक गॉल ब्लैडर की पथरी का होम्योपैथी में काफी बढ़िया इलाज है। इसमें मदर टिंक्चर के अलावा होम्योपैथी दवा की गोलियां भी एक महीने तक खाने से फायदा होता है।

गॉल ब्लैडर की पथरी में कौन सी होम्योपैथिक दवा लें?

1. बर्बरिस वल्गरिस मदर टिंक्चर 15 बूंद और सारसा पेरिल्ला मदर टिंक्चर की 15 बूंदें एक चौथाई कप पानी में मिलाकर दिन में तीन बार पिएं।
2. इसके साथ ही पंद्रह मिनट का गैप रखकर लाइकोपोडियम 200 पोटेंसी की होम्योपैथिक मेडिसिन दिन में तीन बार खाएं।
किन बातों का रखें ध्यान?
इलाज के दौरान कॉफी, पिपरमिंट, तेज गंध वाले फूड, ज्यादा ऑयली, फैटी, नॉनवेज न खाएं।
होम्योपैथी दवा लेने से आधा घंटा पहले और बाद में कुछ न खाएं।
सिगरेट शराब और नशे से परहेज करें।
आगे की स्लाइड में जानें गॉल ब्लैडर की पथरी के लिए कुछ और होम्योपैथिक और नैचुरल रेमेडीज...
(नोट : यह जानकारी होम्योपैथिक डॉक्टर्स की सलाह से दी गई है लेकिन किसी भी दवा का इस्तेमाल करने से पहले अपने डॉक्टर और एक्सपर्ट से राय जरूर ले लें।)
X
Here are 5 Best Homeopathic Medicine for Gall Stones
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..