30 पार हो गए हैं, तो कैल्शियम की कमी दूर करने के लिए आजमाएं ये घरेलू नुस्खे

5 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
हेल्थ डेस्क। उम्र के साथ-साथ हमारा डाइजेशन कमजोर होने लगता है। खासतौर पर 30 की उम्र पार करने के बाद बॉडी आसानी से डाइट में शामिल कैल्शियम को पूरी तरह से अब्जॉर्ब नहीं कर पाती है। ऐसे में कैल्शियम की कमी का खतरा कई गुना बढ़ जाता है। इसके अलावा अनहेल्दी डाइट और ज्यादा शुगरी फूड खाने के कारण भी बॉडी में कैल्शियम की कमी हो सकती है। वहीं, प्रेग्नेंसी के दौरान बेबी की बोन डेवलपमेंट प्रोसेस के दौरान महिलाओं के शरीर में कैल्शियम का लेवल कम होने लगता है। साथ ही, बच्चों को दूध पिलाने वाली मांओं के शरीर में भी कैल्शियम की कमी हो सकती है। कैल्शियम की कमी का असर....
कैल्शियम की कमी के कारण शरीर के फंक्शंस पर बुरा असर पड़ता है। इससे हड्डियां भुरभुरी और कमजोर हो जाती हैं। फ्रैक्चर होने की आशंका कई गुना बढ़ जाती है। मसल्स, कमर और जोड़ों में दर्द की प्रॉब्लम होने लगती है। बाल ड्राय और बेजान हो जाते हैं। अक्सर कमजोरी फील होती है। दांतों में दर्द और पीलेपन की प्रॉब्लम हो सकती है।
ऑर्थोपिडिक और पेन फिजिशियन डॉ. रूपेश जैन का कहना है कि 30 की उम्र के बाद अपनी डाइट में कैल्शियम रिच फूड की मात्रा बढ़ाकर इसकी कमी से बच सकते हैं। इसके अलावा आसान घरेलू नुस्खे भी आपकी बॉडी में कैल्शियम की मात्रा बढ़ाने में मदद कर सकते हैं। जानिए ऐसे ही कुछ आसान तरीकों के बारे में...
आगे की स्लाइड में जानिए अन्य नुस्खों के बारे में....
(मौत की वजह बन सकती है इस विटामिन की कमी, इसके बारे में जानिए आखिरी स्लाइड पर...)