--Advertisement--

इस वजह से गीजर बन सकता है मौत की वजह, शायद आप भी करते हों गलती

गाजियाबाद में रहने वाली सिंघानिया दंपती की मौत का मामला सामने आया है।

Danik Bhaskar | Mar 05, 2018, 01:07 PM IST

यूटिलिटी डेस्क। गाजियाबाद में रहने वाली सिंघानिया दंपती की मौत का मामला सामने आया है। ऐसा माना जा रहा है कि इन दोनों की मौत गैस गीजर का यूज करने से हुई है। ये पहली बार नहीं है जब इस तरह का मामला सामने आया हो। इससे पहले, पूर्वी दिल्ली के गणेश नगर में रहने वाली युवती, ग्रेटर नोएडा के चेतन सैनी और पत्नी किरण और गाजियाबाद के युवक की मौत का कारण भी गैस गीजर बना था। इन सभी की मौत बाथरूम में दम घुटने से हुई थी। बीते 2 दिन में गैस गीजर से 3 लोगों की मौत हो चुकी है। ऐसे में हम यहां गैस गीजर के Do's & Don'ts के बारे में बता रहे हैं।

# एक्सपर्ट ने ये बताया

गैस गीजर आखिर कैसे किसी की मौत का कारण बन सकता है, इस सवाल के लिए हमने गवर्नमेंट होलकर साइंस कॉलेज, इंदौर के प्रोफेसर डॉक्टर आर सी दीक्षित से बात की। इस पर उन्होंने बताया कि गैस गीजर LPG की मदद से पानी को गर्म करते हैं। वहीं, LPG ऑक्सीजन से संपर्क करने के बाद ही जलती है। एलपीजी में ब्यूटेन और प्रोपेन गैस होती है, जो जलने के बाद कार्बन डाईऑक्साइड (CO2) पैदा करती है। ऐसे में बाथरूम के छोटे होने पर ऑक्सीजन की मात्रा कम और CO2 की मात्रा बढ़ने लगती है, जिससे इंसान का दम घुटने लगता है और उसकी मौत भी हो सकती है।

# जानलेवा हो सकती है गैस

यशोदा अस्पताल के न्यूरोलॉजिस्ट डॉ. राकेश कुमार ने बताया कि एलपीजी गीजर से पैदा होने वाली आग के कारण ऑक्सीजन की खपत में कमी आ जाती है। साथ ही कार्बन मोनोआक्साइड भी बनती है। मस्तिष्क में ऑक्सीजन की कमी जानलेवा हो सकती है।

आगे की स्लाइड्स पर जानिए डॉ. दीक्षित के अनुसार गैस गीजर के उपयोग में क्या सावधानी रखें...

गैस गीजर में यूज होने वाले LPG सिलेंडर को हमेशा बाथरूम के बाहर रखें और गैस को मजबूत पाइप की मदद से बाथरूम के अंदर ले जाएं। साथ ही, सिलेंडर को ग्राउंड लेवल पर ही रखें, क्योंकि LPG भारी होती है।

 

 

 

 

गैस सिलेंडर से गीजर में यूज होने वाले पाइप को हमेशा चेक करते रहें। कई बार पाइप कनेक्शन वाली जगह से टूटने लगता है। या फिर चूहे पाइप को काट देते हैं। ऐसे में गैस रिसने का खतरा हो जाता है।

जब भी आप कोई गैस गीजर या सिलेंडर में यूज होने वाला पाइप खरीदते हैं तब उसमें ISI मार्क जरूर देखें। ये मार्क बेहतर क्वालिटी के प्रोडक्ट को ही दिया जाता है।