--Advertisement--

पीरियड्स के दौरान न करें चाय पीने की गलती, इससे होते हैं इतने नुकसान

पुराने समय से ऐसा कहा जा रहा है कि पीरियड्स के दौरान चाय पीने से पेट दर्द में राहत मिलती है। जबकि सच्चाई कुदक और है।

Danik Bhaskar | Jan 22, 2018, 03:01 PM IST

यूटिलिटी डेस्क। सभी लड़कियों और महिलाओं को पीरियड्स के दौरान क्या करना चाहिए क्या नहीं ऐसी कई एडवाइज दादी नानी और मां से मिलती हैं। पुराने समय से ऐसा कहा जा रहा है कि पीरियड्स के दौरान चाय पीने से पेट दर्द और बेक पेन में राहत मिलती है। लेकिन नई स्टडीज में ये बात सामने आई है कि पीरियड्स के दौरान चाय नहीं पीना चाहिए।

चाय में मौजूद कैफीन पीरियड्स के दौरान होने वाले दर्द, ब्लीडिंग को बढ़ा देते हैं। एक कप चाय में 26.1mg कैफीन होता है जो ब्लड प्रेशर को बढ़ाने के साथ ही हार्ट रेट को भी हाई कर देता है जो आपको और ज्यादा अनकंफर्टेबल फील करवाता है। इससे पीरियड्स के दौरान होने वाला स्ट्रेस और एंजाइटी भी बढ़ जाती है।

आगे की स्लाइड्स पर जानिए पीरियड्स के दौरान ग्रीन टी और ब्लैक टी पीने पर क्या होता है...

वजन घटाने वालों की फेवरेट ग्रीन टी में 30-35mg कैफीन पर कप होता है। कैफीन के अलावा ग्रीन टी में पॉलिफेनॉलिक कम्पाउंड होता है। ये बॉडी में आयरन को अब्जॉर्ब करने से रोकता है। इसलिए इसे पीरियड्स के दौरान न लें। सभी टाइप की चाय में कुछ अमाउंट में टेनिक एसिड होता है जो बॉडी में आयरन अब्जार्ब करनी की प्रॉसेस को रोक देता है। इसकी वजह से सिर दर्द, नींद न आना, चिड़चिड़ापन और नर्वसनेस फील होती है। 

 

ब्लैक टी 
ब्लैक टी में 40-60mg कैफीन होता है। इससे नॉर्मल चाय से ज्यादा नुकसान होते हैं। इसलिए पीरियड्स के दौरान महिलाओं को गर्म चाय की जगह गर्म पानी पीना चाहिए। ये काफी फायदा करता है।