Hindi News »Lifestyle »Tech» SBI Changed 1295 Branches IFSC Codes And Names; What Do For Any Transaction

SBI यूजर्स आज से ऐसे नहीं कर सकेंगे पैसों का लेन-देन, हुआ ये बड़ा बदलाव

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) ने 1295 ब्रांच के नाम, कोड और IFSC कोड बदल दिए हैं।

Dainikbhaskar.com | Last Modified - Dec 08, 2017, 01:09 PM IST

  • SBI यूजर्स आज से ऐसे नहीं कर सकेंगे पैसों का लेन-देन, हुआ ये बड़ा बदलाव
    +4और स्लाइड देखें

    यूटिलिटी डेस्क। स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) ने 1295 ब्रांच के नाम, कोड और IFSC कोड बदल दिए हैं। इनमें वो बैंक भी शामिल जिन्हें हाल ही SBI में मर्ज किया गया था। जिन ब्रांच के नाम और कोड्स चेंज किए गए हैं उनकी पूरी लिस्ट SBI की ऑफिशियल वेबसाइट पर देखी जा सकती है। इसमें मुंबई, दिल्ली, बेंगलुरु, चंडीगढ़, अहमदाबाद, जयपुर, कोलकाता, चेन्नई, हैदराबाद, पटना, भोपाल के साथ कई दूसरे शहरों की ब्रांच भी शामिल हैं।

    कहां होगी परेशानी?

    SBI की किसी भी ब्रांच में यदि आपका अकाउंट है तब ऑनलाइन और चेक से ट्रांजेक्शन करने पर अलर्ट रहना होगा। इन दोनों, ट्रांजेक्शन में IFSC कोड की जरूरत होती है, जो 1295 ब्रांच के बदल चुके हैं। ऐसे में यदि आपका अकाउंट में 1295 ब्रांच में से किसी एक में है, तब बैंक का नया नाम, कोड के साथ IFSC कोड भी पता होना चाहिए। इनके बिना आप पैसों का लेन-देन नहीं कर सकेंगे। ऑनलाइन ट्रांजेक्शन में IFSC कोड के साथ ब्रांच कोड और नाम भी देना होता है।

    आगे जानिए बैंक कैसे निकालें SBI की किसी भी ब्रांच का नाम, कोड और IFSC कोड...

  • SBI यूजर्स आज से ऐसे नहीं कर सकेंगे पैसों का लेन-देन, हुआ ये बड़ा बदलाव
    +4और स्लाइड देखें

    ऐसे समझें अब क्या होगा?

    1. किसी का अकाउंट अहमदाबाद स्थित गोपीपुरा ब्रांच में है तब उनका नाम सूरत की मुख्य ब्रांच (चौक बाजार) में बदल गया है। साथ ही, ब्रांच का नया कोड 488 है जो पहले 2649 था। वहीं, नया IFSC कोड SBIN00488 है, जो पहले SBIN02649 था।

    2. किसी का अकाउंट दिल्ली स्थित IFCI टावर ब्रांच में है तब उनका नाम नेहरू प्लेस ब्रांच में बदल गया है। साथ ही, ब्रांच का नया कोड 04688 है जो पहले 32602 था। वहीं, नया IFSC कोड SBIN04688 है, जो पहले SBIN32602 था।

    यहां से चेक करें SBI ब्रांच का नाम, कोड और IFSC कोड।

  • SBI यूजर्स आज से ऐसे नहीं कर सकेंगे पैसों का लेन-देन, हुआ ये बड़ा बदलाव
    +4और स्लाइड देखें

    # 31 दिसंबर के बाद अमान्य होगी चेक बुक

    31 दिसंबर 2017 से स्टेट बैंक एसोसिएटेड बैंकों सहित 6 बैंकों की चेक बुक अमान्य हो जाएगी। इनके थ्रू कोई भी अकाउंट होल्डर संबंधित बैंक से पैसा नहीं निकाल सकेगा। आरबीआई ने हाल में ही ये डेडलाइन बढ़ाई है। ऐसा इन बैंकों के स्टेट बैंक ऑफ इंडिया में मर्ज होने के चलते हो रहा है। SBI के मुताबिक, इन बैंकों के कस्टमर 1 जनवरी 2018 से पहले-पहले मोबाइल बैंकिंग के थ्रू या ब्रांच में आकर नई चेकबुक के लिए अप्लाई कर सकते हैं।

  • SBI यूजर्स आज से ऐसे नहीं कर सकेंगे पैसों का लेन-देन, हुआ ये बड़ा बदलाव
    +4और स्लाइड देखें

    # 31 दिसंबर से इस कंडीशन में बंद होंगे अकाउंट

    भारतीय स्टेट बैंक के कस्टमर्स को 31 दिसंबर, 2017 तक अपना आधार कार्ड बैंक अकाउंट से लिंक करना अनिवार्य है। ऐसा नहीं करने पर आपका अकाउंट बंद भी हो सकता है। SBI ने ट्वीट किया था कि डिजिटल जिंदगी के लाभ उठाने के लिए अपना बैंक खाता आधार कार्ड से जल्द लिंक कराएं। इसके लिए 31 दिसंबर आखिरी तारीख है। जो कस्टमर्स ऐसा नहीं करते हैं, उनका अकाउंट 1 जनवरी से बंद किया जा सकता है। यानी 1 जनवरी के बाद से यूजर अपना अकाउंट से किसी तरह का ट्रांजेक्शन नहीं कर सकेंगे। बैंक अकाउंट तभी एक्टिवेट किया जाएगा जब आधार को लिंक कराया जाएगा।

  • SBI यूजर्स आज से ऐसे नहीं कर सकेंगे पैसों का लेन-देन, हुआ ये बड़ा बदलाव
    +4और स्लाइड देखें

    # बैंक घटा चुकी सर्विस चार्ज

    भारत सरकार ने डिजिटल ट्रांजेक्शन और कैशलेस मुहिम को बढ़ावा देने के लिए ट्रांजेक्शन पर लगने वाले सर्विस चार्ज को 80% तक कम कर दिया है। इमिडिएट पेमेंट सर्विस (IMPS) के लिए चार अलग-अलग स्लैब बनाए ए हैं। पहला 0 से 1 हजार रुपए, दूसरा 1001 रुपए से 10 हजार रुपए, तीसरा 10001 से 1 लाख रुपए और चौथा 100001 से 2 लाख रुपए का है। पहले स्लैब में किसी तरह का सर्विस चार्ज नहीं देना होगा। दूसरे में 1 रुपए, तीसरे में 2 रुपए और चौथे में 3 रुपए का सर्विस चार्ज देना होगा।

आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: SBI Changed 1295 Branches IFSC Codes And Names; What Do For Any Transaction
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Tech

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×