टेक

--Advertisement--

फरवरी तक आधार से नहीं जोड़ा सिम तो हो जाएगा Deactive, काम की 8 बातें

6 फरवरी 2018 तारीख तक जो भी फोन नंबर आधार से लिंक नहीं करवाए जाएंगे, उन्हें डीऐक्टिवेट कर दिया जाएगा।

Dainik Bhaskar

Nov 07, 2017, 12:12 AM IST
Sim And Aadhaar Card Linking: All You Need To Know
गैजेट डेस्क। सरकार ने 12 डिजिट के आधार नंबर को सिम कार्ड से जोड़ना अनिवार्य कर दिया है। 6 फरवरी 2018 इसकी आखिरी तारीख होगी। इस तारीख तक जो भी फोन नंबर आधार से लिंक नहीं करवाए जाएंगे, उन्हें डीऐक्टिवेट कर दिया जाएगा। सुप्रीम कोर्ट ने आधार से बैंक अकाउंट्स और मोबाइल नंबरों को जोड़ने पर स्टे लगाने से इनकार कर दिया है। उसने फैसला संविधान बेंच पर छोड़ दिया था। पिछले कुछ दिनों में सरकार ने लिंकिंग प्रक्रिया को और आसान भी कर दिया है। देखें वे 8 बातें, जो इसके बारे में आपको पता होनी चाहिए...

1. दिसंबर से लिंकिंग के लिए OTP इस्तेमाल कर सकेंगे मोबाइल यूजर
ग्राहकों को राहत देते हुए यूनीक आइडेंटिफिकेशन अथॉरिटी ने ऐलान किया है कि वे आधार नंबर को अपने मोबाइल से लिंक करने के लिए 1 दिसंबर के वन टाइम पासवर्ड (OTP) का इस्तेमाल कर सकेंगे। यानी एसएमएस या IVRS कॉल या मोबाइल ऐप के जरिये ग्राहक लिंकिंग रिक्वेस्ट डाल सकेंगे। UIDAI ने एक ट्वीट में लिखा, '1 दिसंबर 2017 के बाद से आप बिना टेलिकॉम सर्विस प्रवाइडरों को अपने बायोमीट्रिक दिए आधार से सिम जुड़वा सकेंगे।
आगे की स्लाइड्स पर जानिए दूसरी 7 काम की बातें...
Sim And Aadhaar Card Linking: All You Need To Know
री-वेरिफिकेशन में आधार के अलावा कोई डॉक्यूमेंट जरूरी नहीं
एक मोबाइल सब्सक्राइबर को सिर्फ अपना आधार नंबर और एक्टिव सिम कनेक्शन लेकर जाना होगा और E-KYC री-वेरिफिकेशन करवाना होगा।
 
 
 
Sim And Aadhaar Card Linking: All You Need To Know
ऑनलाइन नहीं करवा पाएंगे रजिस्ट्रेशन
मोबाइल सब्सक्राइबर इसे ऑनलाइन नहीं कर पाएंगे। यानी अगर आपके पास कोई इंटरनेट लिंक आए जो मोबाइल को आधार से जुड़वाने का दावा करे, तो उसके झांसे में ना आएं।
 
Sim And Aadhaar Card Linking: All You Need To Know
मुफ्त होगी आधार-मोबाइल लिंकिंग
आधार और मोबाइल को जोड़ने के लिए आपको कोई फीस नहीं देनी होगी। यह बिल्कुल मुफ्त होगा।
 
Sim And Aadhaar Card Linking: All You Need To Know
बुजुर्गों के लिए घर तक आएंगी कम्पनियां
टेलिकॉम ऑपरेटरों को आदेश दिया गया है कि उन वरिष्ठ नागरिकों की वेरिफिकेशन करने उन्हें घरों तक जाना होगा जो बीमार हैं या किसी भी तरह से असमर्थ हैं। DoT के मुताबिक वेबसाइट पर लिंक या कोई और तरीका उन्हें जनता को बताना होगा ताकि इस तरह की परेशानी से गुजरने वाले लोग सर्विस रिक्वेस्ट कर सकें।
 
Sim And Aadhaar Card Linking: All You Need To Know
एजेंट नहीं देख सकेंगे आपकी e-KYC डीटेल
अगर कोई एजेंट आपका बायोमीट्रिक ऑथेंटिकेसन करवाता है तो टेलिकॉम कम्पनियों को ध्यान रखना होगा कि वह ग्राहकों की पूरी e-KYC डीटेल ना देख सके। एक नई गाइडलाइन के मुताबिक एजेंट के डिवाइस पर कोई डेटा भी स्टोर नहीं होगा। फिलहाल एजेंट ग्राहकों की तस्वीर और उनका e-KYC डेटा देख पाते हैं।
 
Sim And Aadhaar Card Linking: All You Need To Know
बायोमैट्रिक वेरिफिकेशन से सभी मोबाइल नंबर करवाने होंगे लिंक
एक से ज्यादा मोबाइल नंबर रखने वाले ग्राहकों को हर मोबाइल कनेक्शन के लिए अलग बायोमीट्रिक वेरिफिकेशन करवानी होगी।
 
Sim And Aadhaar Card Linking: All You Need To Know
इससे सुनिश्चित होगा कि आपकी सिम का गलत इस्तेमाल ना हो
मोबाइल नंबरों का आधार के साथ री-वेरिफिकेशन कर सरकार उन यूजरों को पकड़ना चाह रही है जो सिम कार्ड लेने के लिए नकली पहचान का इस्तेमाल करते हैं। कई केस ऐसे सामने आए हैं जहां किसी व्यक्ति के पैन या दूसरे पहचान पत्रों का इस्तेमाल कर उनका गलत इस्तेमाल किया गया है और कई दूसरे लोगों को उनके नाम पर कनेक्शन बांटे गए हैं। आधार बायोमीट्रिक ऑथेंटिकेशन के बाद आपके नाम पर कोई दूसरा व्यक्ति सिम नहीं खरीद सकेगा।
X
Sim And Aadhaar Card Linking: All You Need To Know
Sim And Aadhaar Card Linking: All You Need To Know
Sim And Aadhaar Card Linking: All You Need To Know
Sim And Aadhaar Card Linking: All You Need To Know
Sim And Aadhaar Card Linking: All You Need To Know
Sim And Aadhaar Card Linking: All You Need To Know
Sim And Aadhaar Card Linking: All You Need To Know
Sim And Aadhaar Card Linking: All You Need To Know
Click to listen..