ट्रैवल

--Advertisement--

मोदी आज माओ के शहर में : इसे कहते हैं चीन का दिल, ये हैं इससे जुड़ी खास बातें

पीएम मोदी आज चाइना के वुहान शहर में हैं। यह माओ का शहर हैै। हम बता रहे हैं इससे जुड़ी खास बातें।

Dainik Bhaskar

Apr 27, 2018, 11:59 AM IST
Modi Arrives In Chinas Wuhan For Informal Summit

ट्रैवल डेस्क। पीएम मोदी गुरुवार को दो दिन के दौरे पर चीन पहुंच चुके हैं। मोदी का ये चार साल में चौथा चीन दौरा है। इसके साथ वह सबसे ज्यादा बार चीन जाने वाले भारतीय प्रधानमंत्री बन गए हैं। इससे पहले पूर्व पीएम मनमोहन सिंह तीन बार चीन गए थे। शुक्रवार को मोदी और चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग के बीच वुहान शहर में बातचीत होगी।

वुहान चाइना का काफी पुराना शहर है। यह हन और चंग नदी का जंक्शन भी है। इस शहर को हानको, हनयांग और वुचांग को मिलाकर बनाया गया है। चाइना के बीचोंबीच होने के कारण इस शहर को हार्ट ऑफ चाइना भी कहा जाता है। यह बीजिंग, शंघाई, ग्वांगझू और चेंगदू से समान दूरी पर है। चाइना के नॉर्थ-साउथ का मेन रेलरोड भी इसी सिटी से रन होता है। हम बता रहे हैं इस शहर की कुछ खास बातें।

तीन शहरों को मिलाकर बनाया था


> 1927 में हानको, हनयांग और वुचांग को मिलाकर वुहान बनाया गया और 1938 में जापानीज आर्मी ने इसे कैप्चर कर लिया था। यहां बड़ा मिलिट्री बेस बना लिया था। हानको फाइनेंशियल सेंटर है। हनयांग पुराना इंडस्ट्रियल सेंटर है और वुचांग यूनिवर्सिटी और रिसर्च पार्क के लिए फेमस है। काफी हाईटेक इंडस्ट्रीस यहां हैं।

> येलो क्रेन टॉवर, म्यूजियम, बुद्धिस्ट टेम्पल, लेक पार्क के साथ ही यांग्त्सी नदी पर बना पहला ब्रिज भी यहां देखने लायक है। ऑटोमोटिव वर्कस, टेक्सटाइल मिल्स, फूड प्रोसेसिंग यहां बड़ी संख्या में हैं। हेवी मशीनरी के प्लांट, ग्लास, सीमेंट, फर्टिलाइजर, इलेक्ट्रॉनिक्स, फार्मास्युटिकल और पेपर प्रोडक्ट्स का काम भी यहां होता है। यहां फेमस वुहान यूनिवर्सिटी है।

कम्यूनिस्ट पार्टी का सेंटर है, देखिए अगली स्लाइड्स में...

X
Modi Arrives In Chinas Wuhan For Informal Summit
Click to listen..