Hindi News »Lifestyle »Travel» Overnight Inter-City Travel To Get Faster

रात में ट्रेन से सफर करते हैं तो आपके लिए है खुशखबरी

नए कॉरीडोर पर यह ट्रेनें 200 से 250 kmph की स्पीड से दौड़ेंगी।

dainikbhaskar.com | Last Modified - Feb 13, 2018, 12:36 PM IST

  • रात में ट्रेन से सफर करते हैं तो आपके लिए है खुशखबरी
    +1और स्लाइड देखें

    यूटिलिटी डेस्क। यदि आप भी रात में ट्रेन में जर्नी करते हैं तो आपके लिए अच्छी खबर है। रात में चलने वाली ट्रेनों की स्पीड बढ़ाने की तैयारी है। दरअसल रेलवे ओवरनाइट इंटरसिटी ट्रेवल के लिए हाईस्पीड कॉरिडोर तैयार करने की योजना में हैं।

    नए कॉरीडोर पर यह ट्रेनें 200 से 250 kmph की स्पीड से दौड़ेंगी।मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक रेलवे मिनिस्टर पीयूष गोयल ने रेलवे बोर्ड को हाईस्पीड कॉरिडोर्स को आइडेंटिफाई करने का टास्क दिया है। इन्हें हाईस्पीड के हिसाब से तैयार किया जाएगा। रेलवे अप्रैल 2018 तक 10 हजार किमी के नए हाई स्पीड कॉरीडोर तैयार करने की प्लानिंग में है। इन्हें तैयार करने का मकसद जर्नी के घटों को कम करना है। इन पर ट्रेन 200 से 250kmph की स्पीड से दौड़ेंगी।

    मुंबई-पुणे इंटरसिटी लेती है 3 घंटे
    मुंबई-पुणे के बीच चलने वाली इंटरसिटी ट्रेन अभी करीब 3 घंटे में जर्नी पूरी करती है। रेलवे इस जर्नी को एक से डेढ़ घंटे में पूरा करना चाहता है। यदि ऐसा होता है तो रेग्युलर ट्रेवल करने वाले पैसेंजर हाईस्पीड ट्रेन से ही जर्नी को प्रिफरेंस देंगे।

    कंस्ट्रक्शन की लागत भी करेंगे आधी, देखिए अगली स्लाइड में...

  • रात में ट्रेन से सफर करते हैं तो आपके लिए है खुशखबरी
    +1और स्लाइड देखें

    कंस्ट्रक्शन की लागत भी करेंगे आधी


    > रेलवे हाई स्पीड कॉरीडोर के कंस्ट्रक्शन पर आने वाली लागत को भी कम करने पर काम कर रहा है। फिलहाल हाई स्पीड कॉरीडोर बनाने के लिए प्रति किमी 100 करोड़ रुपए का खर्चा आता है, रेलवे इसे घटाकर आधी लागत पर लाना चाहता है।

आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Overnight Inter-City Travel To Get Faster
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Travel

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×