Hindi News »Lifestyle »Travel» Quotas In Indian Railway

नेताओं- मंत्रियों को ही नहीं आम आदमी को भी रेलवे देता है 'कोटा' , जानें पूरी डिटेल

रेलवे सिर्फ अफसरों और नेताओं को ही कोटा में रिवर्जेशन नहीं देता बल्कि आम लोगों के लिए भी कई तरह के कोटा होते हैं।

dainikbhaskar.com | Last Modified - Mar 08, 2018, 06:44 PM IST

  • नेताओं- मंत्रियों को ही नहीं आम आदमी को भी रेलवे देता है 'कोटा' , जानें पूरी डिटेल
    +3और स्लाइड देखें

    यूटिलिटी डेस्क।रेलवे सिर्फ अफसरों और नेताओं को ही कोटा में रिवर्जेशन नहीं देता बल्कि आम लोगों के लिए भी कई तरह के कोटा होते हैं। आप भी इसके तहत रिजर्वेशन करवाकर ट्रेन में कंफर्म टिकट पा सकते हैं। नॉर्थ ईस्टर्न रेलवे के चीफ पब्लिक रिलेशन ऑफिसर (CPRO) संजय यादव ने बताया कि सामान्य प्रक्रिया के तहत रिजर्वेशन करवाने पर जो नियम लागू होते हैं, वही नियम कोटा के तहत रिजर्वेशन करवाने के लिए भी हैं।

    आप जिस भी कोटा की कैटेगरी में आ रहे हैं, उससे रिलेटेड डॉक्युमेंट्स प्रूफ के तौर पर जमा करना होते हैं। अलग-अलग कोटा के तहत ऑनलाइन भी बुकिंग करवाई जा सकती है। कुछ श्रेणियों में रेलवे टिकट पर कन्सेशन भी देता है। गंभीर बीमारी जैसे कैंसर या इससे तरह की दूसरी बीमारी वाले यात्रियों के लिए भी कोटा होता है।

    समर वेकेशन स्टार्ट होने वाले हैं। इस पीक सीजन में ट्रेन में कंफर्म टिकट पाना बेहद मुश्किल हो जाता है। 2-3 महीने पहले टिकट करवाने वाले यात्रियों को भी वेटिंग में सफर करना पड़ जाता है। अक्सर यात्रियों को लगता है कि केवल VVIP या नेता-मंत्रियों के टिकट ही कोटे के तहत कंफर्म होते हैं। आज हम बता रहे हैं ऐसे कौन-कौन से कोटा होते हैं, जिनका उपयोग आम आदमी भी कर सकता है। साथ ही यह भी जानिए कि इस तरह के कोटे का फायदा लेने के लिए आपको कौन से डॉक्युमेंट्स लगाना होंगे।

    ऐसे आप भी पा सकते हैं कंफर्म रिजर्वेशन,देखिए अगली स्लाइड में....

  • नेताओं- मंत्रियों को ही नहीं आम आदमी को भी रेलवे देता है 'कोटा' , जानें पूरी डिटेल
    +3और स्लाइड देखें

    SS: सीनियर सिटीजन कोटा

    किसे मिलता है :सीनियर सिटीजन्स - 60 साल से ऊपर के मेल या 58 साल से ज्यादा की उम्र के फीमेल यात्री।

    क्या चाहिए होगा: बर्थ या सीनियर सिटीजन सर्टिफिकेट।

    HQ: हाई ऑफिशल या हेडक्वॉर्टर कोटा


    किसे मिलता है:रेल अधिकारी, ब्यूरोक्रेटस, हाई रैंक ऑफिसर्स और अन्य वीआईपीस


    क्या चाहिए होगा:संबंधित पद पर होने का प्रूफ। ये कोटा पहले आओ, पहले पाओ और सीनियारटी के आधार पर मिलता है।

    FT: फॉरेन टूरिस्ट कोटा


    किसे मिलता है : विदेशों से आए लोगों को।


    क्या चाहिए होगा:पासपोर्ट, वीजा और उनके देश का आईडी प्रूफ।

  • नेताओं- मंत्रियों को ही नहीं आम आदमी को भी रेलवे देता है 'कोटा' , जानें पूरी डिटेल
    +3और स्लाइड देखें

    DF: डिफेंस कोटा


    किसे मिलता है :आर्मी (नेवी, एयरफोर्स और थल सेना) सीआरपीएफ जैसी कोई भी स्पेशल फोर्स या भारतीय डिफेंस सर्विसेज के वर्तमान या रिटायर्ड कर्मचारी।


    क्या चाहिए होगा: डिफेंस आईडी प्रूफ और नंबर या वारंट या फॉर्म डी।

    PH: पार्लियामेंट हाउस कोटा


    किसे मिलता है:पार्लियामेंट सदस्यों। केंद्र या राज्य सरकारों के मंत्री। सुप्रीम कोर्ट और हाई कोर्ट के जज। विधायकों को।


    क्या चाहिए होगा:पद से संबंधित सरकार द्वारा जारी हुआ आईडी कार्ड या सर्टिफिकेट।

    LD : लेडीज कोटा


    किसे मिलता है: 45 साल से ज्यादा उम्र की महिला। प्रेगनेंट महिला के केस में उम्र की पाबंदी नहीं।


    क्या चाहिए होगा:प्रेगनेंट महिलाओं के केस में डॉक्टर की ओर से जारी किया गया प्रेगनेंसी सर्टिफिकेट। बाकी महिलाओं के केस में उम्र का प्रमाणपत्र


    नोट: जिन ट्रेनों में लेडीज कोटे के तहत 6 या उससे ज्यादा सीट होती है। उनमें उम्र की पाबंदी नहीं रहती।

  • नेताओं- मंत्रियों को ही नहीं आम आदमी को भी रेलवे देता है 'कोटा' , जानें पूरी डिटेल
    +3और स्लाइड देखें

    HP: हैंडिकैप कोटा


    किसे मिलता है:40% या उससे ज्यादा प्रतिशत वाले फिजिकली हैंडिकैप यात्रियों को।


    क्या चाहिए होगा: रेलवे की ओर से जारी किया गया हैंडिकैप सर्टिफिकेट।


    नोट:इस कोटे के तहत ट्रेनों में प्रति कोच न्यूनतम 2 सीट हैंडिकैप्स के लिए होती है। इस कोटे में टिकट कराने पर 75 फीसदी तक कम
    किराया लगता है।

    DP: ड्यूटी पास कोटा


    किसे मिलता है :सिर्फ ऑफिसियल काम के लिए ट्रैवल करने वाले रेलवे कर्मचारियों को।


    क्या चाहिए होगा: पास की कॉपी और ऑन ड्यूटी प्रूफ।


    नोट:क्लासवाइज 1AC, एक्जीक्यूटिव क्लास चेयर कार, 2AC, 3AC, चेयरकार, स्लीपर, और सेकंड स्लीपर में क्रमश: 4, 4, 6, 16, 4, 20 और 20 सीटें इस कोटे के तहत अधिकतर ट्रेनों में होती हैं।

    RS: रोड साइड या रिमोट लोकेशन कोटा


    बड़े स्टेशनों के बीच जो स्टेशन कंप्यूटराइज्ड नेटवर्क (पैसेंजर्स रिजर्वेशन सिस्टम) से न जुडे़ हों वहां इस कोटे में रिजर्वेशन होता है। अधिकतर एक्सप्रेस और मेल ट्रेनों में इस कोटे के तहत अलग से सीटें रहती हैं।

    RE: रेल इम्प्लाई या प्रिविलेज कोटा


    किसे मिलता है :रेल कर्मचारियों और उनके परिवार को नॉन ऑफिशियल यात्रा के लिए।


    क्या चाहिए होगा:रेलवे पास या प्रिविलेज पास की कॉपी।

    YU: युवा कोटा


    किसे मिलता है : 15 से 45 साल के बीच के बेरोजगार लोगों को।


    क्या चाहिए होगा:बर्थ सर्टिफिकेट, नरेगा के तहत या सरकारी एम्प्लॉयमेंट एक्सचेंज द्वारा जारी किया गया सर्टिफिकेट।


    नोट:देश में कई रुटों पर इस कोटे वाली युवा एक्सप्रेस ट्रेनें चल रही हैं।

आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Quotas In Indian Railway
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Travel

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×