--Advertisement--

World Diabetes Day: जानें डायबिटीज के लक्षण और डाइट को लेकर काम की बातें

World Diabetes Day पर जानें इसके लक्षण और उपचार ताकि बिगड़ी लाइफस्टाइल को सुधार कर इस बीमारी से बचा जा सके।

Dainik Bhaskar

Nov 13, 2017, 02:26 PM IST
World Diabetes Day: Know about symptoms, cure, prevention and what to eat
नए जमाने की जीवनशैली में Diabetes यानी मधुमेह एक आम बीमारी बनती जा रही है। World Diabetes Day पर आइए जानते हैं इसके लक्षण और उपचार ताकि बिगड़ी लाइफस्टाइल को सुधार कर इस बीमारी से बचा जा सके।
आमतौर पर डायबिटीज इंसुलिन हार्मोन की कमी के चलते या उनमें संतुलन की कमी के चलते होता है। भारत में अनुवांशिक डायबिटीज के मरीज भी हैं लेकिन मोटापे और बढ़ती उम्र में खराब जीवनशैली के चलते इसके मरीजों की तादाद एकाएक बढ़ी है।
हाल ही में देश की सबसे बड़ी डाय्गनोसिस कंपनी SRL ने एक विश्लेषण के बाद कहा है कि देश में महिलाओं की तुलना में पुरुष डायबिटीज का ज्यादा शिकार हो रहे हैं। कंपनी ने पिछले तीन साल में डायबटीज की जांच के सभी आंकड़ों की तुलना की तो उसमें 17 फीसदी औऱतें डायबिटीज का शिकार निकली जबकि पुरुषों में यह आंकड़ा 21 फीसदी था।

समय रहते जान लीजिए लक्षण


डायबिटीज के तेजी से फैलते प्रकोप के चलते हर किसी के लिए इसके लक्षण जानने जरूरी हैं ताकि पहली स्टेज में ही उपचार किया जा सके।

ये रहे डायबिटीज के लक्षण

  • रोगी को बार बार प्यास लगती है। हालांकि हर बार वो ज्यादा पानी नहीं पी पाता। लेकिन बार बार प्यास लगना औऱ गला सूखना इस बीमारी का सबसे पहला लक्षण है।
  • बार बार यूरिन आना, इस मामले में रोगी को बार बार यूरिन जाने की जरूरत पड़ती है। कई बार पेशाब करने में जलन होती है। कई बार ऐसा होता है कि यूरिन पर चींटिया भी आती हैं। इस मामले में तुरंत डाक्टर से बात करनी चाहिए।
  • डायबिटीज के सामान्य लक्षण हैं। ऐसे हालात में आंखों से कम दिखने लगता है। अगर 10 या 15 दिन के भीतर ही कम दिखने लगे या धुंधला दिखने लगे तो इसका तात्पर्य है कि आप डायबिटीज की चपेट में आ रहे हैं।
  • जख्म देर से भरना, अगर चोट लग जाए तो उस जख्म को भरने में अगर सामान्य समय से ज्यादा समय लग रहा हो तो तुरंत डायबिटीज चैक कराएं।
  • कमजोरी आना, जी हां अगर आप सेहतमंद खाना खाने के बावजूद थोड़ी थोड़ी देर में थक रहे हैं या आपकी सांस फूल जाती है तो आपको डायबिटीज हो सकती है। कमजोरी के चलते अगर व्यवहार में चिड़चिड़ापन और चक्कर आ रहे हों तो आपको तुरंत डॉक्टर को दिखाना चाहिए।
  • बार बार भूख लगना, हालांकि ऐसी स्थति कम ही होती है लेकिन अगर व्यक्ति को बेसमय की भूख लग रही है और कुछ भी खाने पीने का मन करने लगता है तो डायबिटीज चैक करानी चाहिए। बार बार भूख लगना डायबिटीज का लक्षण है।
  • सर्द मौसम में भी पसीना आना और घबराहट होना, अगर सर्दियों में भी आपके साथ ऐसा होता है तो आप डायबिटीज के मरीज हो सकते हैं। रिपोर्ट्स कहती हैं कि डायबिटीज के मरीजों में सबसे ज्यादा मौतें दिल के दौरे या स्ट्रोक से होती हैं। वर्ल्ड हैल्थ ऑरगेनाइजेशन की रिपोर्ट कहती है कि एक डायबिटिक व्यक्ति में हार्ट अटैक का खतरा सामान्य व्यक्ति की तुलना में 50 फीसदी ज्यादा होता है।

डायबिटीज के रोगी की डाइट


डायबिटिक रोगी की डाइट सामान्य व्यक्ति की डाइट से हलकी और संतुलित होनी चाहिए। दरअसल इसमें ध्यान रखना होता है कि ग्लूकोज का लेवल न शरीर में तय मात्रा से ज्यादा हो और न ही कम होना चाहिए। ऐसे में रोगी की डाइट बेहद संतुलित होनी चाहिए ताकि सारे पोषण उसे तयशुदा मात्रा में मिल सकें।
  • डाइट से जुड़ी बातें
  • कम कैलोरी वाला भोजन लें।
  • फास्ट फूड से तौबा कर लें
  • खाने के बाद मीठे की आदत छोड़ दें।
  • आटे की बजाय चने की चपातियां खाए।
  • अपने भोजन में करेला, मेथी, बैंगन,परवल जैसी चीजों की अधिकता रखें।
  • पैकेज्ड जूस की जगह फल खाएं।
  • खाने में अंकुरित चना, सत्तू, बाजरा, अंकुरित दालों को शामिल करें।
  • चावल, घी, मक्खन और आलू का प्रयोग कम से कम करें।
  • सप्ताह में एक दिन करेले या नीम की पत्तियों के रस का सेवन करें।
X
World Diabetes Day: Know about symptoms, cure, prevention and what to eat
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..