पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

देसी आइंस्टाइन: पेट्रोल बचाने का सस्ता जुगाड़

9 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
जयपुर के हरि नारायण प्रजापति सिर्फ आठवीं पास हैं। राजमिस्त्री के इस 38 वर्षीय बेटे को मशीनों से खेलने का बचपन से शौक है। घर चलाने के लिए उन्होंने बाइक, स्कूटर रिपेयर करने का गैराज खोल लिया, पर अपने शौक से समझौता नहीं किया। हरि बताते हैं कि उनके मन में आया कि किसी ऐसी चीज का आविष्कार किया जाए जिससे लोगों को फायदा हो और कमाई भी बढ़े। 2006 में हवा से चलने वाला स्कूटर हरि का पहला आविष्कार था। इसके लिए उन्होंने स्कूटर में एक एयर टैंक जोड़ा। लेकिन एयर टैंक में एक बार हवा भरने के बाद स्कूटर सिर्फ आठ किलोमीटर चल पाता था। इसके बाद 2007 में हरि ने बाइक के लिए पेट्रोल बचाने वाली किट पर काम करना शुरू किया और 6 महीने में उनकी यह किट बनकर तैयार हो गई। इस किट के जरिये 15 से 23 फीसदी पेट्रोल बचाया जा सकता है। उन्होंने इसे पेट्रोल परफॉर्मेस एनहैंसर नाम दिया है। सबसे पहले हरि ने अपने पिता रामधन प्रजापति को इस किट के बारे में बताया, पर उनके पिता को भरोसा नहीं हुआ कि बेटे की बनाई किट वाकई काम की है। कुछ बाइक और गाड़ियों में लगाने के बाद जब इस किट का प्रयोग सफल रहा, तब जाकर रामधन को बेटे के आविष्कार पर यकीन हुआ। उनकी डिवाइस बाइक के 4 स्ट्रोक इंजन में काबरेरेटर और सिलेंडर के बीच लगती है। वैक्यूम वॉल्व खुलने पर इंजन का पिस्टन हवा और पेट्रोल अपनी तरफ खींचता है और साथ में डिवाइस में लगा छोटा-सा पिस्टन भी उसके साथ जाता है। वैक्यूम वॉल्व बंद होने पर छोटा पिस्टन पीछे आ जाता है। डिवाइस में लगे स्प्रिंग के सहारे छोटा पिस्टन लगातार आगे-पीछे होता रहता है और पर्याप्त हवा लेकर इंजन में जाने से पहले ही पेट्रोल और हवा का सही मिश्रण करता है। इससे पेट्रोल की एक-एक बूंद का पूरा इस्तेमाल होता है और इस तरह पेट्रोल की 15 से 23 फीसदी बचत संभव हो पाती है। लगभग 350 ग्राम की यह डिवाइस बाइक के अलावा कार में लग सकती है। बाइक की डिवाइस की कीमत 500 रुपए और कार की डिवाइस की कीमत 600 रुपए है। हरि तीन साल में लगभग 1500 डिवाइस राजस्थान, दिल्ली, मुंबई और तमिलनाडु में बेच चुके हैं। एक डिवाइस पर उन्हें लगभग 60 रुपए की बचत हो जाती है। एक बार डिवाइस लेने के बाद उसे 2 से 3 तक साल बदलने की जरूरत नहीं पड़ती। ऐसा भी नहीं है कि हरि नारायण की इस डिवाइस का इस्तेमाल करने वाले सभी लोग इसकी परफॉर्मेस से संतुष्ट हो जाते हैं। हरि बताते हैं, ‘10 फीसदी ग्राहक ऐसे भी हैं, जो परफॉर्मेस को लेकर संतुष्ट नहीं हो पाते। डिवाइस की फिटिंग ठीक नहीं होने या बाइक के किसी स्पेयर पार्ट में खराबी होने पर भी सही परफॉर्मेस नहीं मिल पाती। आसपास के ग्राहकों को तो मैं उनकी बाइक या कार की जांच करके संतुष्ट कर देता हूं, पर बहुत दूर जा पाना मेरे लिए संभव नहीं हो पाता।’ हरि यही नहीं रुकने वाले। उनका अगला लक्ष्य हवा से चलने वाले स्कूटर को मॉडिफाई करना है। इस स्कूटर को जब उन्होंने राष्ट्रपति प्रतिभा पाटिल के सामने पेश किया था तब राष्ट्रपति ने उनके आविष्कार को सराहा भी था। वह चाहते हैं कि उनका स्कूटर एक बार हवा भरने के बाद कम से कम 50 किलोमीटर चले और उसकी अधिकतम स्पीड 35 से बढ़कर 50 किलो प्रति घंटा तक पहुंच जाए। ठ्ठ रोहित गुप्ता वॉट एन आइडिया: पेट्रोल बचाने वाला डिवाइस प्रोडक्ट: पेट्रोल परफॉर्मेस एनहैंसर बनाने में कितना वक्तलगा: छह महीने मॉडल पर खर्च: 5,000 रुपए

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- वर्तमान परिस्थितियों को समझते हुए भविष्य संबंधी योजनाओं पर कुछ विचार विमर्श करेंगे। तथा परिवार में चल रही अव्यवस्था को भी दूर करने के लिए कुछ महत्वपूर्ण नियम बनाएंगे और आप काफी हद तक इन कार्य...

और पढ़ें