• Hindi News
  • शराब दुकान खोलने पर आत्मदाह की चेतावनी

शराब दुकान खोलने पर आत्मदाह की चेतावनी

8 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
शंकरपारा सुपेला की शराब दुकान के स्थानांतरण को लेकर संशय की स्थिति।
सिटी रिपोर्टर - भिलाई
जिला कांग्रेस कमेटी के महामंत्री प पूर्व पार्षद नरेश कोठारी ने प्रशासन को चेतावनी दी है कि अब यदि नेवई मरोदा क्षेत्र में शराब दुकान खोली गई तो वे आत्मदाह कर लेंगे। इधर शंकरपारा सुपेला की शराब दुकान किसी दूसरी जगह स्थानांतरित होगी या नहीं इसको लेकर संशय की स्थिति बनी हुई है। जुनवानी शराब दुकान के ठेकेदार दुकान दूसरी जगह स्थानांतरित करने के लिए समय मांगा है।
नरेश कोठारी ने कहा कि नेवई में वर्षों से संचालित शराब दुकान को बंद करने की मांग लगातार की जाती रही है। इसकी वजह से क्षेत्र में अपराध बढ़ रहा है। 3 फरवरी और 28 मार्च को नागरिकों ने कलेक्टर से वार्ड-64, स्टेशन मरोदा वार्ड-62, टंकी मरोदा वार्ड-61 में कोई शराब दुकान नहीं खोलने का आग्रह किया था। मार्च को आबकारी अधिकारी नेवई पुलिस द्वारा इन क्षेत्रों में शराब दुकान नहीं खोलने का आश्वासन दिया गया। फिर भी पहले बीआरपी चौक के पास दुकान खोली गई। जब नागरिकों ने विरोध किया तो यह गेट नंबर-2 के पास खोल दी गई। विरोध के कारण यह दुकान भी बंद हुई लेकिन अधिकारी व ठेकेदार चुनाव के बाद शराब दुकान खोलने की योजना बना रहे हैं। विरोध के बाद भी दुकान खोलने का प्रयास किए जाने से इस योजना की पुष्टि भी हो रही है।



नेवई मरोदा क्षेत्र का मामला - पूर्व पार्षद ने प्रशासन को चेताया

शंकर पारा में शराब दुकान का विरोध कर रहे नागरिकों ने धरना के लिए बारी बांध ली है ताकि उनके काम धंधे पर इसका विपरीत असर न पड़े। महिलाएं घर की जिम्मेदारी भी निभा सकें। अब बारी बारी से धरना देंगे। ताकि धरना तब तक जारी रख सकें जब तक शराब दुकान स्थाई रूप से बंद न हो जाए।आंदोलनकारी शराब दुकान बंद करने की मांग को लेकर लगातार आठ दिन से धरना दे रहे हैं। गुरुवार को आबकारी अधिकारी आंदोलनकारियों को मनाने पहुंचे थे। पर उन्हें लोगों के आक्रोश का सामना करना पड़ा व बैरंग लौट गए। लेकिन दुकान हटेगी या नहीं इसको लेकर संशय की स्थिति बनी हुई है।नागरिक हर हाल दुकान हटवाना चाहते हैं।

धरना देने के लिए बांध ली पारी

जुनवानी परिया पारा स्थित देशी शराब दुकान को दूसरी जगह स्थानांतरित करने के लिए ठेकेदार ने दस दिन के लिए समय मांगा है। लेकिन अभी वहीं चल रही है। जुनवानी में वार्ड-1 के नागरिक पखवाड़ेभर से आंदोलन कर रहे थे। उन्होंने परिया पारा और जुनवानी चौक की शराब दुकान हर हाल में हटाने की मांग की। पूर्व भाजपा मंडल अध्यक्ष मदन सेन ने कहा कि नागरिकों के दबाव के कारण ही ठेकेदार की ओर से सहायक आयुक्त को पत्र लिखा गया है। जिसमें ठेकेदार ने कहा है कि कोहका मार्ग में संचालित देशी शराब दुकान को लेकर आपत्ति आ रही है। ठेकेदार ने यह भी कहा है कि जुनवानी की अंग्रेजी शराब दुकान आचार संहिता समाप्त होने के बाद हटाएंगे।



समय मांगा पर दुकान अभी वहीं