• Hindi News
  • एम्स में सोनोग्राफी के लिए लंबी वेटिंग

एम्स में सोनोग्राफी के लिए लंबी वेटिंग

8 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
रायपुर-!-एम्स में सोनोग्राफी टेस्ट के लिए मरीजों को एक महीने का इंतजार करना पड़ रहा है। कारण मरीज ज्यादा आ रहे हैं और सोनोग्राफी मशीन एक ही है। एक्सरे के लिए भी हफ्तेभर से ज्यादा की वेटिंग हैं। ऐसे में कई मरीज निजी जांच सेंटरों में जाने के लिए मजबूर हैं। माहभर पहले एम्स में सोनोग्राफी मशीन से मरीजों की जांच शुरू हुई है। 5 जून से जनरल मेडिसिन, पल्मोनरी मेडिसिन, जनरल सर्जरी, ऑर्थोपेडिक्स, ऑब्स्ट्रिकल एंड गायनिक, पीडियाट्रिक्स, पीडियाट्रिक्स सर्जरी, ऑप्थेलमोलॉजी, ईएनटी, साइकेट्री, डेंटिस्ट्री व स्किन की ओपीडी शुरू हुई है। इन सभी विभाग में 400 से 450 मरीज इलाज कराने आ रहे हैं।

इसमें 20 से 25 मरीजों को रोजाना डॉक्टर सोनोग्राफी कराने के लिए कहते हैं। ऐसे में मरीजों का दबाव बढऩे के कारण वेटिंग बढ़ती ही जा रही है। अगर कोई मरीज ८ जनवरी को सोनोग्राफी के लिए रजिस्ट्रेशन कराता है तो उसका नंबर ७ फरवरी को आएगा। एक्सरे मशीन लगभग 15 दिनों पहले शुरू हुई है। यहां भी जांच के लिए मारामारी है। अस्पताल के अधिकारियों का कहना है कि अस्पताल शुरू होने के पहले सोनोग्राफी व एक्सरे मशीन लगाई जाएगी। इससे मरीजों को ज्यादा वेटिंग नहीं करनी पड़ेगी।