• Hindi News
  • स्थल चयन को लेकर विवाद के चलते आंगनबाड़ी भवन अधर में

स्थल चयन को लेकर विवाद के चलते आंगनबाड़ी भवन अधर में

8 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
भास्कर न्यूज -!-बरबसपुर
आमाडांड में स्थल चयन को लेकर विवाद के चलते आंगनबाड़ी भवन अधर में है। सरपंच द्वारा चयनित जगह को उप सरपंच व ग्रामीण गलत बता रहे हैं।
खबर छपने के बाद रविवार को ले-आउट हुआ, उसे भी गलत बताकर काम रोक दिया गया। अब उप सरपंच व ग्रामीणों ने नई जगह पर भवन बनाने सहमति दी है। ग्राम पंचायतों में प्रतिनिधियों की आपसी लड़ाई के चलते गांव का विकास अधर में है। शासन द्वारा किसी भी भवन या विकास कार्य हेतु राशि स्वीकृत की जाती है तो ये आपस में लड़कर उसमें व्यवधान डालते हैं। इससें स्वीकृत हुआ काम भी पूरा नहीं हो पाता। ऐसा ही एक मामला आश्रित ग्राम आमाडांड में आंगनबाड़ी केंद्र भवन बनाने को लेकर चल रहा है। इसमें सरपंच ने आंगनबाड़ी केंद्र भवन बनाने के लिए जिस जगह का चयन किया है उसे उप सरपंच व ग्रामीण गलत बता रहे हैं। इनका कहना है वह जमीन वनभूमि है, इसका पट्टा बनने के लिए पहले ही जा चुका है। इस आपसी रंजिश में दो साल पहले स्वीकृत हुआ आंगनबाड़ी भवन आज तक नहीं बन सका। इसलिए बच्चे आमाडांड निवासी दीपक साहू के घर पर उधार के भवन में मध्याह्न भोजन करने व पढऩे को मजबूर हैं। आंगनबाड़ी का खुद का भवन न होने से कार्यकर्ताओं को भी परेशानी होती है।
27 दिसंबर को दैनिक भास्कर ने क्षेत्र में उधार के भवन में चल रहे आंगनबाड़ी केंद्रों की खबर छापी थी। इस पर प्रशासन सख्त हुआ और अधूरे भवन जल्द पूरा कराने के निर्देश भी दिए, इसमें आमाडांड आंगनबाड़ी केंद्र भी शामिल था। खबर छपने के दूसरे दिन ही प्रशासन के आदेश पर ले-आउट कराया गया। पर ले-आउट के बाद काम शुरू होते ही फिर से जमीन का विवाद शुरू हो गया, इससे एक बार फिर से काम रुक गया। रविवार को आमाडांड के उप सरपंच रामकुमार साहू के समक्ष दो दर्जन से ज्यादा ग्रामीणों ने सरपंच द्वारा चयन किए गए स्थान को
गलत बताया।