• Hindi News
  • आपदा प्रबंधन के गुर सिखाएंगे ट्रेंड पार्षद

आपदा प्रबंधन के गुर सिखाएंगे ट्रेंड पार्षद

8 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
इमरान खान -!- फरीदाबाद
देश में आई आपदा में शहर के लोग भी भागीदारी निभा सकें। लोगों को बचाने और राहत देने का कार्य कर सकें। इसके लिए ही अब पार्षदों को फरीदाबाद में होने वाली पहली विशेष मॉकड्रिल का हिस्सा बनाया जा रहा है। जिसमें उन्हें आपदा प्रबंधन के गुर सिखाने के साथ मॉकड्रिल में आई टीमें उदाहरण के साथ करके भी बताएंगी। 15 जनवरी को इस मॉकड्रिल का आयोजन शहर में किया जा रहा है। इसके बाद पार्षद अपने वार्ड के नागरिकों को ट्रेंड करेंगे। इस संबंध में डीसी बलराज सिंह मोर को अवगत करा दिया गया है। जल्द ही पार्षदों को इसके लिए निमंत्रण भेजने का कार्य शुरू किया जाएगा।
कहां होगा आयोजन
मॉकड्रिल का आयोजन 15 जनवरी को बल्लभगढ़ के अग्रवाल कॉलेज में रखा गया है। यह कार्यक्रम सुबह 10 बजे से दोपहर 2 बजे तक चलेगा। इसमें आपदा प्रबंधन से संबंधित सभी प्रकार की शिक्षा पार्षदों और इस कार्यक्रम में सम्मिलित होने वाले दूसरे लोगों को दी जाएगी।
मॉकड्रिल में ये होगा
इस मॉकड्रिल में नेशनल डिजॉस्टर रिलीफ फोर्स, होमगार्ड रेस्क्यू फोर्स और अग्निशमन फोर्स सम्मिलित होगी। इस कार्यक्रम में पार्षदों को विभिन्न प्रकार की आपदाओं से परिचित कराने के साथ उसमें किस प्रकार स्वयं को सुरक्षित कर दूसरों का कैसे बचाव किया जा सकता है यह बताया जाएगा। अगर सामान उपलब्ध नहीं है। तो ऐसे में किस प्रकार का समय व मौजूद संसाधनों का सदुपयोग कर सामान तैयार किया जाए यह भी सिखाया जाएगा। इसके अलावा आग पर काबू पाने के तरीकों आदि की शिक्षा दी जाएगी। इसके बाद उदाहरण भी इन टीमों द्वारा कार्यक्रम में मौजूद लोगों के सम्मुख पेश किया जाएगा।
मॉकड्रिल का उद्देश्य
कार्यक्रम का उद्देश्य नवयुवकों को इस कार्य के लिए एकत्र कर एक टीम का गठन करना है। और उसे देश में होने वाली आपदाओं में लोगों को राहत पहुंचाने के लिए इस्तेमाल करना है। पहले भी कॉलेजों और स्कूलों में इस प्रकार के आपदा प्रबंधन को लेकर सेमिनार हुए। लेकिन उससे इतने लोग एकत्र नहीं हो सके। पार्षद अपने वार्ड से जुड़ा रहता है। उनके साथ काफी नवयुवकों का जमावड़ा भी होता है। इसलिए ही पार्षदों को इसके लिए विशेष तौर पर आमंत्रित किया जा रहा है। वैसे इसमें गांव की पंचायतों और कुछ समाजसेवी संस्थाओं को भी शामिल किया गया है।
क्या कहते हैं पार्षद
पार्षद योगेश ढ़ींगरा, ओमप्रकाश रक्षवाल, अजय बैसला आदि का कहना है कि इसकी जानकारी जरूर मिली है। लेकिन अभी तक उनके पास कोई निमंत्रण नहीं आया है। और जनहित के लिए अगर कुछ करने का मौका मिलता है। तो सभी पार्षद उस कार्य को करने के लिए तत्पर हैं।
॥पहली दफा इतने बड़े स्तर पर शिक्षा के तहत मॉकड्रिल का आयोजन किया जा रहा है। इसके तहत पूरी सूचना डीसी बलराज सिंह मोर को भेज दी है। इसमें पार्षदों को सिखाने के उद्देश्य को प्रमुखता दी गई है।
एमपी सिंह, कार्यक्रम नोडल अफसर एवं चीफ वार्डन सिविल डिफेंस