• Hindi News
  • एचडीएफसी बैंक में हंगामाबैंककर्मियों और पुलिस के साथ की हाथापाई

एचडीएफसी बैंक में हंगामाबैंककर्मियों और पुलिस के साथ की हाथापाई

8 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
ञ्च बैंक में युवती का बैंककर्मियों से हुआ विवाद
ञ्च युवक व युवती अरेस्ट, एनआईटी थाने में मामला दर्ज, सीसीटीवी फुटेज खंगाल रही पुलिस
भास्कर न्यूज -!- फरीदाबाद
टाउन नंबर-५ स्थित एचडीएफसी बैंक में मंगलवार दोपहर को एक महिला व इनके साथ आए व्यक्ति ने हंगामा कर दिया। युवती को समझाने वाले बैंककर्मियों व पुलिस के साथ भी हाथापाई की गई। इसके बाद पुलिस ने हंगामा करने वाले दोनों आरोपियों को हिरासत में लिया और एनआईटी थाने में इनके खिलाफ मामला दर्ज करा दिया। पुलिस ने दोनों को अरेस्ट कर लिया है। पता चला है कि किसी काम को लेकर युवती की बैंककर्मियों से झड़प हुई थी। इसके बाद विवाद बढ़ गया। अब पुलिस बैंक के अंदर लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज निकलवा रही है ताकि स\\\"ााई और पता लग सके।
पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार एचडीएफसी बैंक में मैनेजर ने पुलिस को बताया है कि मंगलवार सुबह करीब 12 बजे मोनिका व इनके साथ अमनदीप बैंक में आए। मोनिका ने बैंक से एक पॉलिसी ली हुई थी। इस पॉलिसी को लेकर इनकी बैंककर्मियों से कहासुनी हो गई। मामला बढ़ता देख अन्य बैंककर्मी बीच बचाव करने लगे और महिला को शांत करने में जुट गए। मामला शांत होने की बजाए और बिगड़ गया। बैंक के सिक्योरिटी गार्ड व अन्य कर्मचारी महिला को समझाने के लिए इसकी तरफ बढ़े। आरोप है कि मोनिका व अमनदीप ने बैंककर्मियों के साथ हाथापाई शुरू कर दी और बैंक के शीशे भी तोड़ दिए। यहां तक बैंक के अंदर एक उपभोक्ता के बीच बचाव करने पर इनके साथ भी मारपीट की गई। शेष पेज-15
बैंक के बाहर ड्यूटी पर बैठे पुलिसकर्मी व महिला पुलिसकर्मी ने भी जब महिला को समझाने की कोशिश की तो इसने पुलिसकर्मियों पर भी हमला कर दिया। वहीं बैंक स्टाफ ने भी किसी अनहोनी की आशंका के चलते तुरंत बैंक का कैश हाई सिक्योरिटी वैन में ट्रांसफर किया। मामले की सूचना तुरंत एनआईटी थाना पुलिस को दी। कुछ ही देर में एनआईटी थाने से काफी पुलिस बैंक में पहुंच गई और मोनिका व अमनदीप को हिरासत में लिया।
कोट्स . . . .
मोनिका व अमनदीप ने बैंक के अंदर हाथापाई की। पुलिसकर्मियों के साथ भी हाथापाई की गई। इसलिए इन दोनों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया है। बाकी मामले की जांच जारी है। अभी सीसीटीवी फुटेज भी देखी जाएगी। इसके बाद मामला और अधिक स्पष्ट हो जाएगा।
अनिल कुमार, एसएचओ, एनआईटी थाना।