• Hindi News
  • आध्यात्मिक उत्सव आज से

आध्यात्मिक उत्सव आज से

9 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
फरीदाबाद - रामनवमी के अवसर पर 7 से 10 अप्रैल तक संत यशपाल महाराज एवं रूपवती देवी की याद में वार्षिक आध्यात्मिक उत्सव का आयोजन अनंगपुर स्थित अखिल भारतीय संतमत सत्संग आश्रम में किया जा रहा है। इस अवसर पर संरक्षक संत सुरेश महाराज का मार्गदर्शन भी प्राप्त होगा। इस वार्षिक कार्यक्रम में देशभर से बड़ी संख्या में श्रद्धालु पहुंचेंगे। यशपाल महाराज द्वारा स्थापित अखिल भारतीय संतमत सत्संग द्वारा आध्यात्मिक व सामाजिक उत्थान के लिए संपूर्ण देश एवं विदेशों के लगभग एक हजार से अधिक केंद्रों पर हर रविवार एवं गुरुवार को ध्यान-योगाभ्यास तत्पश्चात साधना संबंधी सत्संग साहित्य का पठन, श्रवण व मनन के कार्यक्रम का आयोजन किया जाता है। वार्षिक आध्यात्मिक उत्सव का शुभारंभ 7 अप्रैल को अखंड शांति पाठ से शुरू होगा। इस पाठ में ऊं शांति मंत्र का जाप जिह्वा से नहीं अपितु हृदय से व ख्याल की जुबान से किया जाता है। इसके अतिरिक्त इस मौके पर रामधुन व प्रार्थना, ध्यान योगाभ्यास, सामूहिक शांतिपाठ, ध्यान-योगाभ्यास के सिद्धांतों पर प्रकाश, कुरान शरीफ व मसनवी मौलाना रूम व मुसलमान संतों की कथाएं, रामचरितमानस, भगवतगीता व भक्तों व संतों की कथा, टोलीचर्चा व सिलसिले के बुजुर्गों के जीवन पर प्रकाश डाला जाएगा।
कार्यक्रम का समापन 10 अप्रैल को सामूहिक शांति पाठ व श्रद्धांजलि ((भजन)) के साथ होगा। सेंट बृजमोहनलाल अस्पताल, अनंगपुर आश्रम में निशुल्क स्वास्थ्य परीक्षण शिविर का आयोजन भी किया जाएगा। रविवार को विदेश में रहने वाले सत्संगी बंधुओं के साथ टेली कांफ्रेंसिंग का भी कार्यक्रम होगा।