• Hindi News
  • सिरदर्द के बाद तुरंत लें डॉक्टर से सलाह : फौगाट

सिरदर्द के बाद तुरंत लें डॉक्टर से सलाह : फौगाट

8 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
भास्कर न्यूज - जींद
शहर के आशीर्वाद अस्पताल में शनिवार को सिरदर्द व मिरगी रोग पीडि़तों के लिए शिविर लगाया गया। इसमें 84 सिरदर्द रोगियों और 56 मिरगी रोगियों की जांच कर उन्हें नि:शुल्क दवाएं उपलब्ध कराई गईं।
शिविर में डॉ. विकास फौगाट ने बताया कि मिरगी बुरी आत्मा के प्रकोप से नहीं, बल्कि एक सामान्य चिकित्सीय स्थिति है। इस रोग से दुनियाभर में पांच प्रतिशत लोग प्रभावित हैं।
उन्होंने बताया कि मस्तिष्क की विद्युतीय गतिविधि में बदलाव के कारण ऐसा होता है। कुछ मामलों में विद्युतीय घटना मस्तिष्क के छोटे हिस्से से शुरू होती है तो कुछ में पूरे मस्तिष्क को प्रभावित करती है। 90 प्रतिशत रोगियों को साल में दो से ज्यादा बार और 99 प्रतिशत लोगों को जीवन में कभी न कभी सिरदर्द झेलना पड़ता है। दुनिया में 24 करोड़ से ज्यादा लोग सिरदर्द से पीडि़त हैं। सिरदर्द के 300 से ज्यादा कारण हो सकते हैं। कुछ लोगों को तनाव के कारण ही सिरदर्द हो जाता। ऐसे में लोगों को चिकित्सक से सलाह लेनी चाहिए।



आशीर्वाद अस्पताल में शिविर, मिरगी और सिरदर्द रोगी जांचे