• Hindi News
  • लापरवाही ने ली बाइक पर सवार 4 की मौत

लापरवाही ने ली बाइक पर सवार 4 की मौत

8 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
मंगलवार शाम पुराना बस स्टैंड पर उचाना जाने के लिए बस का इंतजार कर रहा दिरौली खेड़ा गांव का कृष्णा बस की चपेट में आ गया। हादसे में कृष्णा की एक टांग टूट गई। बताया जा रहा है कि करीब पांच बजे पुराना बस स्टैंड पर खेड़ी चौपटा जाने वाली सवारियां बस के इंतजार में खड़ी थी। इसी दौरान नया बस स्टैंड से निजी परिवहन सेवा की बस वहां पर पहुंची। बस चालक ने तेज रफ्तार के साथ बस को जब बुडाना रोड पर मोड़ा तो वहां खड़ा दिरौली खेड़ा का कृष्णा का बस के नीचे आ गया। बाद में चालक बस को मौके पर ही छोड़ कर फरार हो गया। मौके पर पहुंची पुलिस ने घायल युवक को नारनौंद सीएचसी में दाखिल कराया। फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है।

पुराना बस स्टैंड पर बस के नीचे आया युवक



जींद रोड पर हुए हादसे में महिला और युवक की मौत, सामान के साथ मुश्किल था बाइक को संभालना





ञ्चटाटा की मामूली टक्कर से बड़ा हादसा

भास्कर न्यूज -!- नारनौंद

जींद रोड पर हुए सड़क हादसे में बाइक और टाटा एस के बीच हुई भिडं़त में बाइक सवार एक महिला और युवक की मौत हो गई। मृतकों की शिनाख्त जींद जिले के गांव बीबीपुर निवासी 28 वर्षीय संजय और गांव राजपुरा भैण निवासी राजपति के तौर पर हुई है। इसी हादसे में बाइक पर सवार संजय की पत्नी बबली और राजपति का बेटा 25 वर्षीय अमरजीत गंभीर रूप से घायल हो गए। गांव राजपुरा निवासी अमरजीत और उसकी मां राजपति मंगलवार सुबह किसी काम से अपनी रिश्तेदारी में गांव खरड़ अलीपुर गए थे। बताया जा रहा है कि वापसी में उनके ही रिश्तेदार संजय और उसकी पत्नी बबली उनके साथ बाइक पर सवार होकर नारनौंद के लिए रवाना हुए। चारों एक ही बाइक पर सवार होकर करीब दो बजे जब नारनौंद के पास श्योराण फिलिंग स्टेशन के पास पहुंचे तो सामने से आ रहे एक टाटा एस गाड़ी की उनकी बाइक के साथ भिड़ंत हो गई। हादसे में बाइक चला रहे संजय ने मौके पर ही दम तोड़ दिया। सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची तीनों घायलों और संजय के शव को एंबुलेंस में डाल कर हांसी सामान्य अस्पताल में लेकर गई। वहां पर चिकित्सकों ने राजपति को मृत घोषित कर दिया। बाद में बबली और अमरजीत की गंभीर हालत को देखते हुए उन्हें हिसार रेफर कर दिया। वहीं हादसे को अंजाम देने के बाद आरोपी टाटा एस चालक अपने वाहन को मौके से भगा ले गया।

नियम न मानने का नतीजा

जींद रोड पर मंगलवार दो बजे हुए सड़क हादसे में यातायात नियमों की पालन न करना दो जनों के लिए काल बन कर आया। हादसे के दौरान दोनों मरने वाले और दोनों घायल एक ही बाइक पर सवार थे। इसके अलावा उनके पास दो भारी बैग भी थे। ऐसे में बाइक का संतुलन बनाना काफी मुश्किल था। टाटा एस के साथ हुई भिड़ंत में भी बाइक का संतुलन बिगडऩा मुख्य वजह बना। फिलिंग स्टेशन के पास टाटा एस चालक ने जैसी ही एक बैलगाड़ी को क्रास करना चाहा तो सामने से आए बाइक के साथ उसकी मामूली भिड़ंत हो गई। इसके बाद असंतुलित हुए बाइक पर बैठे सभी लोग सड़क पर जा गिरे।