• Hindi News
  • इतिहास का सब्जेक्ट सीबीएसई के बच्चों को नहीं करेगा बोर

इतिहास का सब्जेक्ट सीबीएसई के बच्चों को नहीं करेगा बोर

8 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
भास्कर न्यूज - सोनीपत
स्कूल में इतिहास विषय की बात जेहन में आते ही स्टूडेंट्स का मानो मूड ही ऑफ हो जाता है। शायद इसलिए कि इसमें तारीख, वर्ष या समय जैसे आंकड़ों को याद रखना पड़ता है, लेकिन संभव है कि यही सब्जेक्ट विद्यार्थियों के लिए अति रुचिकर हो जाए।
इसके लिए सीबीएसई की ओर नई व्यवस्था लागू की गई है। नई गाइडलाइन के अनुसार हिस्ट्री सब्जेक्ट को आसान, रोचक व पढऩे योग्य बनाने के लिए ऐतिहासिक स्मारकों में एजुकेशनल ट्रिप व खास प्लान करने के स्कूलों को दिशा-निर्देश दिए गए हैं। सीबीएसई 2014-15 में जारी गाइडलाइंस के अनुसार बोर्ड हिस्ट्री सब्जेक्ट को स्टूडेंट्स के लिए इंटरेस्टिंग बनाया जा रहा है।
योजना के तहत ऐतिहासिक स्मारकों पर स्टूडेंट्स को एजुकेशनल ट्रिप होगी। इससे विषय के बारे में व्यवहारिक नॉलेज हो सकेगी। जिसका लाभ उन्हें परीक्षा परिणाम व परियोजना कार्यों में भी मिलेगा। इसका सकारात्मक पहलू यह भी है कि स्टूडेंट्स पहले की तुलना में सब्जेक्ट को लेकर अगर मगर नहीं करेंगे। सोनीपत सहोदय के अध्यक्ष वीके मित्तल ने बताया कि गाइडलाइन जारी होने से विद्यार्थियों को हिस्ट्री के बारे में बेहतर ढंग से अवेयर किया जाएगा।
विद्यार्थियों को ऐतिहासिक इमारतों की यात्रा पर लेकर जाया जाएगा। इस प्रकार ट्रिप पर जाने से सीखने की क्षमता में वृद्धि होती है। उन्होंने बताया कि स्कूल में हेरिटेज क्लब बने हुए हैं, जो हिस्ट्री से संबंधित इवेंट व स्कूल ट्रिप का जिम्मेदारी संभालते हैं। बच्चों को राष्ट्रीय स्तरीय इतिहास से जुड़ी स्पर्धाओं में भी प्रतिभागिता करवाई जाती है, ताकि स्टूडेंट्स को रोचक और प्रेक्टिकल की जानकारी मिल सके।



विषय को रोचक बनाने के लिए जारी की गई है नई गाइडलाइन