• Hindi News
  • नींव भरने को लेकर दो गुटों में चलीं लाठियां, छह गंभीर

नींव भरने को लेकर दो गुटों में चलीं लाठियां, छह गंभीर

8 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
भास्कर न्यूज - चरखी दादरी
गांव चरखी में गुरुवार शाम मकान बनाने को लेकर दो गुटों में झगड़ा हो गया। झगड़े में घायल दोनों गुटों के लोगों को उपचार के लिए सिविल अस्पताल में भर्ती करवाया गया। अस्पताल में भी एक गुट ने अपने साथियों को बुला दूसरे गुट के घायलों पर दोबारा से हमला करवा दिया। पुलिस ने मामले में सभी उपचाराधीनों के बयान दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। गांव चरखी निवासी संजय, सुनील व श्रवण कुमार अपने खाली प्लाट में मकान बनाने के लिए नींव भर रहे थे। उसी समय पड़ोस का ही मेनपाल वहां आया और
उन्हें नींव खोदने से मना करने लगा और कहा कि यह नींव रास्ते में खोदी जा रही है।
संजय व श्रवण ने मेनपाल को कहा कि वह नींव अपनी जगह पर ही खोद रहे हैं। अगर किसी को आपत्ति है तो वह जगह की पैमाइश करवा ले। इसी बात को लेकर दोनों ही गुटों में जगह को लेकर विवाद हो गया मेनपाल की आवाज सुन मौके पर ही उसका लड़का वीरेंद्र व बजरंग भी आ पहुंचे जिनके आते ही दोनों गुटों में झगड़ा हो गया दोनों ही तरफ से जमकर लाठी व डंडे चले जिसके चलते इस दोनों ही गुटों से छह युवक गंभीर रूप से घायल हो गए।दोनों पक्षों के परिजनों ने घायलों को उपचार के लिए सिविल अस्पताल में भर्ती करवाया। जहां पुलिस ने
दोनों पक्षों के लोगों से बयान ले जांच शुरू कर दी थी।
झगड़े में घायल संजय व सुनील ने बताया कि गुरुवार पुलिस के बयान ले जाते ही मेनपाल के लड़के वीरेंद्र ने आधा दर्जन अपने साथियों को फोन कर अस्पताल में ही बुला लिया जहां आते ही उन युवकों ने हमारे ऊपर
हमला कर दिया अस्पताल के वार्ड में ही भर्ती अन्य मरीजों के अभिभावकों ने बीच बचाव कर झगड़े को शांत करवाया।
संजय ने बताया कि आधा दर्जन आरोपी दो बाइकों पर सवार होकर आए थे जो मरीजों के अभिभावकों के डर से अपनी बाइकों को भी अस्पताल में ही छोड़कर भाग निकले। मामले में सिटी थाना पुलिस ने उपचाराधीनों के बयान दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है।



दोनों पक्षों में विवाद के बाद चली लाठियां, छह घायलों को बाद में अस्पताल में भर्ती कराया

गांव चरखी में खाली प्लाट में मकान बनाने के लिए नींव भरने पर पड़ोसी ने जताया एतराज