• Hindi News
  • बीएमडब्ल्यू को भेजी जमीन आवंटन रद्द करने की नोटिस

बीएमडब्ल्यू को भेजी जमीन आवंटन रद्द करने की नोटिस

8 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
> बियाडा कह रहा जमीन निरस्त करने को, कंपनी प्रबंधन ने मांगी मोहलत
> कंपनी प्रबंधन कह रहा बियाडा नहीं दे रहा बिजली और पानी
> कंपनी आठ साल में शुरू नहीं कर सकी उत्पादन
अशोक -!- बोकारो
बोकारो के उपायुक्त सह बियाडा के प्रबंध निदेशक उमाशंकर सिंह ने बीएमडब्ल्यू प्रबंधन को नोटिस भेजी है। भेजी गई नोटिस में कहा गया है कि आठ साल में कंपनी
प्रबंधन ने संयंत्र की स्थापना के लिए काम प्रारंभ नहीं किया है तो क्यों नहीं आवंटित जमीन रद्द कर दी जाए। इसके बाद कंपनी प्रबंधन ने बियाडा प्रबंधन से कुछ और मोहलत मांगी है। कंपनी प्रबंधन का यह भी कहना है कि बियाडा प्रबंधन कंपनी के लिए बिजली और पानी की व्यवस्था नहीं कर पा रहा।




उपायुक्त उमाशंकर सिंह से सीधी बात

बीएमडब्ल्यू के प्रस्तावित इंडस्ट्री के लिए 2005 से ही जमीन लेकर छोड़ दिया गया है?

सचिव को कार्रवाई का निर्देश दिया गया है।

इंडस्ट्री नहीं लगाने पर क्या कार्रवाई हो सकती है?

बीएमडब्ल्यू के निदेशक को जमीन निरस्त करने के लिए नोटिस भेजी गई है। उन्होंने उद्योग की स्थापना के लिए फिर से समय मांगा है।

नब्बे एकड़ में पनप सकते थे 20 नए उद्यम

बियाडा प्रबंधन का कहना है कि उनके पास कई उद्योगों की स्थापना के लिए आवेदन आए हैं। मगर बियाडा प्रबंधन भूखंड के अभाव में उन्हें जमीन नहीं दे पा रहा है। ऐसे में बेकार पड़ी जमीन तो बियाडा तलाशेगा ही। क्योंकि नब्बे एकड़ भूमि में तो बीस नये उद्यम पनप सकते हैं। ऐसे छोटे-छोटे उद्योगों की स्थापना से पांच सौ लोगों को नियोजन मिलता। साथ ही बियाडा के राजस्व में भी इजाफा होता।

2005 में आवंटित की गई थी भूमि

बीएमडब्ल्यू को बियाडा के औद्योगिक क्षेत्र में प्रस्तावित स्पंज आयरन इंडस्ट्री 2005 में ही नब्बे एकड़ भूमि फेज चार में दी गई थी। मगर जमीन लेने के आठ वर्ष बाद भी आज तक संयंत्र की स्थापना के लिए कार्य ही चालू नहीं हो सका है। तब बियाडा प्रबंधन ने कंपनी प्रबंधन को नोटिस भेजी। अगर कंपनी प्रबंधन ने यहां संयंत्र स्थापित कर दिया होता, तो इसमें पांच सौ लोगों को नियोजन मिलता।