• Hindi News
  • कार्यशाला में दक्षता विकास पर चर्चा

कार्यशाला में दक्षता विकास पर चर्चा

8 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
 जमशेदपुर
लायंस क्वेस्ट की सीनियर ट्रेनर रत्ना चौधरी ने कहा कि दूसरों को जानने से पहले खुद को जानना जरूरी है। चौधरी शनिवार को टाटा स्टील जूलॉजिकल पार्क में लायंस इंटरनेशनल की ओर से आयोजित लायंस क्वेस्ट-स्किल्स फॉर एडोलसेंस वर्कशॉप में शिक्षकों को संबोधित कर रही थी। उन्होंने शिक्षकों से कहा कि बच्चों के मनोभाव को समझने के लिए आपको उसकी जरूरत को समझना होगा। चौधरी ने कहा कि आपमें फैसले लेने की क्षमता होनी चाहिए ताकि बच्चों की समस्याओं का तुरंत निदान किया जा सके। उन्होंने विभिन्न ग्रुप एक्टिविटी के जरिये शिक्षकों को प्रशिक्षण दिया। इस कार्यशाला में शहर के 12 स्कूलों की 32 शिक्षिकाएं भाग ले रही है। उल्लेखनीय है कि लायंस क्वेस्ट का यह प्रोग्राम दुनिया भर के 73 देशों में चल रहा है। इसकी शुरूआत 2004 में हुई थी। इस प्रोग्राम को यूनेस्को, यूनिसेफ और विश्व स्वास्थ्य संगठन ने मान्यता दे रखा है।
आज होगा तीन दिवसीय कार्यशाला का समापन : लायंस क्वेस्ट की इस कार्यशाला का समापन रविवार को होगा। केपीएस ट्रस्ट के चेयरमैन एपीआर नायर होंगे। मौके पर परनीता भटनागर, पौलिन हॉवेल, सना यास्मिन मिर्जा, अनिता कुमारी, अर्चना प्रमोद, महेन्द्र कुमार वर्मा, जॉली चौधरी, अरुण कुमार सिंह, मनोज कुमार पंडित, सुष्मिता सिन्हा, राजी नायर, पिंकी सिंह और भावना सिंह, विकास कुमार दास, नीपा विश्वास, मनीषा मजुमदार, रौनिता कर्माकर, सुष्मिता सिकदर, एन.सरोजा, वैशाली बनर्जी, जयश्री सिन्हा, नेहा कुमारी, डोलन विश्वास, पूजा सिंह, शुभांशु दासगुप्ता आदि मौजूद थे।