• Hindi News
  • शिफ्टिंग मामले में विवाद, विस्थापितों को चाहिए दुकान

शिफ्टिंग मामले में विवाद, विस्थापितों को चाहिए दुकान

8 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
विस्थापितों की मांग, जिसकी जमीन गई है, दुकान देने में उसे प्राथमिकता दे पर्यटन विभाग
भास्कर न्यूज -!- रजरप्पा
छिन्नमस्तिका मंदिर प्रक्षेत्र में शॉपिंग कॉम्प्लेक्स बनकर तैयार है। जिला प्रशासन द्वारा आवंटन की नीति बनाने की प्रक्रिया के साथ हीं विवाद उत्पन्न हो गई है। शॉपिंग कॉम्प्लेक्स जिस जमीन पर बना है, वहां विस्थापित हुए दुकानदारों का कहना है कि आवंटन में उन्हें प्राथमिकता मिलनी चाहिए। जबकि दो दिन पूर्व ही रामगढ़ एसडीओ दिलेश्वर महतो ने कहा कि स्टैंड से मुख्य मंदर जाने के रास्ते में आने वाले 45 दुकानों को हटाकर शॉपिंग कॉम्प्लेक्स में शिफ्ट कराया जाएगा।
प्रशासन के निर्णय से भड़के विस्थापित, किया विरोध
प्रशासन के इस निर्णय से स्थानीय विस्थापित भड़क गए हैं। मंगलवार को विस्थापित दुकानदारों ने बैठक कर विरोध दर्ज किया। अध्यक्षता शंकर करमाली ने की। बैठक में मौजूद विस्थापित दुकानदार संघ के संरक्षक राजेश करमाली ने कहा कि प्रबंधन विस्थापितों के साथ नाइंसाफी कर रही है। उन्होंने कहा कि पूरे मामले की जानकारी जिले के डीसी को दी जाएगी। इसके बावजूद प्रशासन हमारी बातें नहीं सुनती है तो आंदोलन किया जाएगा।
54 पक्का मकान व 106 झोपड़ीनुमा दुकानें हटी थीं
विस्थापित दुकानदार संघ के अनुसार, जिस स्थान पर शॉपिंग कॉम्प्लेक्स बना है, वहां वर्ष 2005 में जिला प्रशासन ने पांच एकड़ जमीन रैयतों से प्राप्त किया था। उस समय वहां बने 54 पक्का मकान व 106 झोपड़ीनुमा दुकानें हटाई गई थी। विस्थापितों का दावा है कि जिला प्रशासन उस समय हटाए गए दुकानदारों को हीं शॉपिंग कॉम्प्लेक्स एलॉटमेंट का भरोसा दिया था। मंगलवार को हुए बैठक में रंजीत पंडा सहित कुलदीप साव, लोकेस पंडा कैलाश साव, नागेश्वर साव मौजूद थे।
एलॉटमेंट के दौरान सबका हित देखेंगे : एसडीओ
पुरे मामले में रामगढ़ एसडीओ दिलेश्वर महतो ने कहा कि शॉपिंग कॉम्प्लेक्स एलॉटमेंट के दौरान जो सही होगा, वही किया जाएगा। एसडीओ के अनुसार, एलॉटमेंट के दौरान किसी के साथ भेदभाव नहीं बरतेंगे, उन्होंने आगे कहा, शॉपिंग कॉम्प्लेक्स एलॉटमेंट करने के समय सभी दुकानदारों का हित देखेंगे।