• Hindi News
  • क्रबदलाव का शॉर्टकट नहींञ्ज

क्रबदलाव का शॉर्टकट नहींञ्ज

8 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
ञ्चसोशल मीडिया पर सीएम ने की लोगों से जदयू को वोट देने की अपील
भास्कर न्यूज. पटना
इस देश में बदलाव का कोई शॉर्टकट नहीं है। बदलाव तभी संभव है जब ईमानदारी से काम करने वाले और साफ-सुथरे ढंग से चुनाव लडऩे वाले दल को वोट पड़ेगा। जनता ने ताकत दी तो सोलहवीं लोकसभा में जदयू देश में एक बेहद निर्णायक और मजबूत सरकार बनवाएगा। नहीं तो बेहद जिम्मेदार विपक्ष की भूमिका निभाएगा। शनिवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने फेसबुक वॉल पर लोगों से जदयू के लिए समर्थन मांगा। उन्होंने कहा कि जदयू को लोकसभा में वोट देने से क्या होगा, जो ऐसा प्रचार करे कि उसे करारा जवाब दीजिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि हर स्थिति में हम न केवल बिहार की आवाज बनेंगे बल्कि ताकत लगाएंगे, देश को सही दिशा देने में, बिहार और अन्य पिछड़े राज्यों को विशेष राज्य का दर्जा दिलाने में, महंगाई और भ्रष्टाचार से लडऩे में, अमन-चैन बढ़ाने में, विकास और रोजगार के अवसर लाने में। आजादी के 67 सालों में यदि ईमानदारी से बिहार की लड़ाई लडऩे वाला एक भी दल केंद्र और राज्य में होता तो आज बिहार का ये हाल नहीं होता।

भाड़ा समानीकरण की नीति से 45 सालों तक बिहार का दोहन कर हमारा औद्योगिकरण रोका गया। नेपाल से बात करके बांध बने होते जो बिहार में बाढ़ को रोकते। शुरुआती दौर में ही हमारे यहां आईआईटी, एनआईटी और आईआईएम जैसे संस्थान होते तो वे राज्य के संस्थागत विकास का आधार बनते। सड़कों और पुलों का जाल फैला होता जो पिछले कुछ सालों में दिन-रात काम करके हो पाया। पिछले 8 सालों में बिहार जिस मुकाम पर पहुंचा है वहां उसे कई दशक पहले पहुंचना था। पर यहां कोई दल और कोई नेता नहीं था जो बिहार में गवर्नेंस देता। दिल्ली में बिहार का अधिकार लेता। भारत तभी सफल होगा जब बिहार विकास में समानता के स्तर पर आ जायेगा।