• Hindi News
  • अकेले रहने वाले बुजुर्गों की हिफाजत करेगी पुलिस

अकेले रहने वाले बुजुर्गों की हिफाजत करेगी पुलिस

8 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
नगर संवाददाता.भोपाल
अब शहर में अकेले रहने वाले बुजुर्गों की हिफाजत का पुलिस ख्याल रखेगी। संबंधित थाने के पुलिस कर्मियों के फोन नंबर भी बुजुर्गों को दिए जाएंगे ताकि आपात स्थिति में वे उन्हें बुला सके। ऐसे बुजुर्गों के घर में काम करने वाले नौकरों का ब्यौरा भी पुलिस अपने पास रखेगी। राज्य वरिष्ठ नागरिक कल्याण आयोग की सिफारिश के बाद डीजीपी ने भोपाल सहित प्रदेश के सभी पुलिस अधीक्षक को इस आशय के निर्देश दिए है। अब हर थाना क्षेत्र में अकेले रहने वाले बुजुर्गों की सूची बनाई जाएगी।
आयोग ने बुजुर्गों के जीवन और उनकी संपत्ति की सुरक्षा को सुनिश्चित करने के लिए गृह विभाग को सिफारिश की थी। इसको मानते हुए गृह विभाग ने उनकी सुरक्षा के संबंध में निर्देश जारी किए हैं। इसके तहत प्रत्येक पुलिस थाना के क्षेत्राधिकार में रहने वाले अकेले बुजुर्गों की सूची बनाकर उनके मोबाइल, लैंड लाइन टेलीफोन नंबर थाने में रहेंगे ताकि अकेले रहने वाले बुजुर्गों से पुलिस फोन से या व्यक्तिगत रुप से सप्ताह में एक-दो बार संपर्क कर सकें। पुलिस इस बात की भी जानकारी रखेगी कि उनके घर के आसपास कोई संदिग्ध गतिविधि तो नहीं चल रही है।




नौकरों का किया जाए वेरीफिकेशन

गृह विभाग द्वारा जारी आदेश के अनुसार हर थाने में बुजुर्गों के लिए अलग रजिस्टर रखा जाएगा। उनके यहां काम करने वाले नौकरों की जानकारी रखने के अलावा पुलिस उनका वेरीफिकेशन भी करेगी। जिन इलाके में इस काम में लापरवाही बरती जाएगी, वहां के थाना प्रभारी के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

हर माह समीक्षा होगी

डीजीपी नंदन दुबे ने बताया कि बुजुर्गों के मामलों की हर माह समीक्षा की जाएगी। थाना प्रभारी बुजुर्गों के संबंध में हर माह की 10 तारीख तक अपनी रिपोर्ट एसपी को देंगे। एसपी इसकी समीक्षा के बाद अपनी रिपोर्ट डीजीपी और आयोग को भेजेंगे।



यदि बुजुर्गों के प्रति होने वाले अपराधों के संबंध में पुलिस कोई सुनवाई नहीं कर रही है तो बुजुर्ग हेल्प लाइन नंबर 1090 और हेल्प एज इंडिया के टोल फ्री नंबर पर 1800-233-1253 पर फोन से शिकायत कर सकते हैं। बुजुर्ग अपनी शिकायत अध्यक्ष, मप्र राज्य वरिष्ठ नागरिक आयोग, डी -12, माचना कॉलोनी भोपाल और डीजीपी पुलिस मुख्यालय, भोपाल के पते पर कर सकते हैं।

बुजुर्ग यहां कर सकते हैं शिकायत

राज्य वरिष्ठ नागरिक कल्याण आयोग की सिफारिश के बाद डीजीपी ने दिए निर्देश।

सिफारिश पर अमल -