• Hindi News
  • जीआरएमसी में बनेगा जोनल सेंटर

जीआरएमसी में बनेगा जोनल सेंटर

8 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
नगर संवाददाता. ग्वालियर
जबलपुर मेडिकल यूनिवर्सिटी आगामी सत्र में आने वाले एमबीबीएस के नए बैच के साथ कामकाज शुरू कर देगी। यूनिवर्सिटी का कामकाज सुचारू रूप से चले और छात्रों को छोटे-छोटे काम के लिए जबलपुर न आना पड़े। इसी को ध्यान में रखते हुए जीआरएमसी सहित प्रदेश के चार शासकीय मेडिकल कॉलेज में जोनल सेंटर बनाए जा रहे हैं।
जबलपुर मेडिकल यूनिवर्सिटी के कुलपति डॉ. डीपी लोकवानी की देखरेख में यूनिवर्सिटी का कामकाज शुरू करने की तैयारियां अंतिम दौर में आ चुकी है। मेडिकल छात्रों की सुविधा को ध्यान में रखते हुए जीआरएमसी के साथ-साथ भोपाल, इंदौर और रीवा में जोनल सेंटर बनाए जा रहे हैं। इसके लिए कुलपति ने चारों मेडिकल कॉलेज के डीन को पत्र लिखकर जोनल सेंटर खोलने के निर्देश दिए हैं। साथ ही सीनियर प्रोफेसर के नाम मांगे हैं जो जोनल सेंटर इंचार्ज के रूप में काम करेगा।
जीआरएमसी प्रशासन ने कॉलेज परिसर में जोनल सेंटर चिह्नित कर लिया है। कुलपति के अनुसार आगामी सत्र में आने वाले एलोपैथी और डेंटल मेडिकल कॉलेज के छात्रों का कामकाज जबलपुर यूनिवर्सिटी कराएगी। यूनिवर्सिटी प्रशासन बीते साल से आयुर्वेद और नर्सिंग कॉलेज भी संभालने की योजना बनाए बैठा है। लोकसभा चुनाव के बाद जोनल सेंटरों की व्यवस्थाओं का जायजा लेने कुलपति प्रो. डीपी लोकवानी जीआरएमसी सहित चारों मेडिकल कॉलेजों का निरीक्षण करेंगे।



चार जोनल सेंटर बनाए जाएंगे

॥मेडिकल छात्रों की सुविधा को ध्यान में रखते हुए जीआरएमसी सहित चार मेडिकल कॉलेज में जोनल सेंटर बनाए जा रहे हैं। मेडिकल और डेंटल कॉलेज में नए सत्र में आने वाले छात्रों की कामकाज जबलपुर मेडिकल यूनिवर्सिटी देखेगी। इसके बाद आयुर्वेद और नर्सिंग कॉलेजों को भी जोड़ लिया जाएगा।ञ्जञ्ज

डॉ. डीपी लोकवानी, कुलपति, जबलपुर मेडिकल यूनिवर्सिटी

ञ्चजबलपुर मेडिकल यूनिवर्सिटी नए सत्र से शुरू कर देगी कामकाज, भोपाल, इंदौर व रीवा में भी होंगे जोनल सेंटर।