• Hindi News
  • संवरने लगी सूरत, जल्द लौटेगा अस्तित्व

संवरने लगी सूरत, जल्द लौटेगा अस्तित्व

8 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
भास्कर संवाददाता -!- शाजापुर
वर्षों से बदहाल पड़े शहरवासियों के मनोरंजन स्थल नेहरू स्मृति वन का अब कायाकल्प होने लगा है। वन विभाग की पर्यावरण वानिकी योजना के तहत यहां लाखों रुपयों से कई कार्य हो रहे हैं। इन कार्यों के चलते नेहरू स्मृति वन की सूरत संवरने लगी है। उम्मीद भी जागी है कि इस स्थल का खोया हुआ अस्तित्व जल्द वापस लौटेगा।
एक बार फिर शहरवासी फुर्सत के पलों में यहां पहुंचकर प्रकृति के बीच मनोरंजन का लुत्फ उठा सकेंगे। एबी रोड स्थित जिला वनमंडल प्रबंधन से मिली जानकारी के मुताबिक वन विभाग की पर्यावरण वानिकी योजना के तहत नेहरू स्मृति वन को संवारने के लिए यहां लाखों रुपयों की लागत के कई कार्य करवाए जा रहे हैं। करीब ६५ हैक्टेयर भूमि पर बसे स्मृति वन के एक वृहद परिसर में नक्षत्र वाटिका तैयार की गई है। इस वाटिका में 9 पौधे ग्रहों के, 12 पौधे राशियों के व नक्षत्र के २७ पौधे लगाए गए हैं। इसी तरह बीचोंबीच स्थित गार्डन को नए सिरे से तैयार किया जा रहा है। यहां विभिन्न किस्मों के नए पौधे लगवाए जाने के साथ ही बगीचे की घास भी व्यवस्थित की जाएगी। गार्डन एरिया के करीब २४०० स्क्वेयर फीट एरिया में पेवर ब्लॉक लगाए जा रहे हैं। जिनसे यहां पहुंचने वालों को गार्डन एरिया में घूमते समय परेशानी नहीं होगी। आराम की दृष्टि से यहां १५ नई सीमेंटेड कुर्सियां भी लगवाई गई हैं। पानी की उपलब्धता दूर करने के लिए बोरिंग कराया जाना भी प्रस्तावित है। इसके लिए पीएचई को राशि भी जमा जमा करा दी गई है। काम जल्द शुरू होगा।
किसी समय रहती थी चहल-पहल- पहाड़ी क्षेत्र के समीप स्थित होने से स्मृति वन किसी समय शहरवासियों के लिए आकर्षण का प्रमुख केंद्र था। छुट्टियों के अलावा सामान्य दिनों में भी यहां आने-जाने वालों की चहल-पहल बनी रहती थी। फिर अनदेखी का शिकार होने से लोगों ने यहां जाना बंद कर दिया। अब चहल-पहल फिर बढऩे की उम्मीद है।




॥जिला प्रशासन और वन विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों के निर्देशन में पर्यावरण वानिकी योजना के तहत नेहरू स्मृतिवन को संवारने के लिए कई कार्य कराए जा रहे हैं। उक्त कार्यों के पूरा होने के बाद शहरवासियों को इनका लाभ मिलने लगेगा।ञ्जञ्ज

ललित उपाध्याय, वनरक्षक व नेहरू स्मृति वन प्रभारी



इस तरह जीवंत है नेहरू स्मृति वन का नाम। गार्डन को नया रूप देने के लिए तैयारी की जा रही है।

नक्षत्र वाटिका ने इस तरह लिया आकार।

बच्चे ले सकेंगे झूले-फिसलपट्टी का लुत्फ

स्मृति वन में किसी समय मनोरंजन के लिए लगाए झूले और फिसल पट्टियां भी खराब हो चुकी हैं। योजना के तहत इन साधनों की मरम्मत करवाकर उन पर रंगरोगन भी किया जाएगा। इस कार्य के बाद बच्चों से लेकर बड़े तक इसका लुत्फ उठा सकेंगे।

रात में जगमाएंगी सोलर लाइटें

शहर से कुछ किमी दूरी पर स्थित होने से स्मृति वन में रात के समय बिजली की अक्सर समस्या बनी रहती है। विभाग ने योजना के तहत यहां अब सोलर लाइटें भी लगवा दी हैं। सोलर लाइटें लगने के बाद अब रात में यहां अंधेरे की समस्या भी काफी हद तक कम हो जाएगी।