• Hindi News
  • ट्रैक्टर बाइक की भिड़ंत में दो की मौत

ट्रैक्टर-बाइक की भिड़ंत में दो की मौत

8 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
भास्कर संवाददाता. डबरा
डबरा-चीनौर रोड पर ग्राम इटायल के पास शुक्रवार रात करीब 2.30 बजे एक ट्रैक्टर ने बाइक में टक्कर मार दी, जिससे दो लोगों की मौत हो गई। शनिवार सुबह एक युवक का शव जहां रोड किनारे पड़ा मिला, वहीं दूसरे युवक का शव ठाकुर बाबा रोड स्थित जगदीश हॉस्पिटल में मिला। जब शव लेने पुलिस पहुंची तो हॉस्पिटल के संचालक ने शव नहीं होने की कहकर पुलिस को गुमराह करने का प्रयास किया, साथ ही एसआई के साथ अभद्र व्यवहार किया। हालांकि बाद में युवक का शव हॉस्पिटल के एक कमरे में मिल गया।
दरअसल चरण सिंह ((25)) पुत्र कर्नल सिंह सिख और अशोक पुत्र छिद्दीलाल निवासी ग्राम खेरी दोनों सोनू उर्फ जसवंत सिंह निवासी सेकरा जागीर की कंपाइन मशीन पर काम कर शनिवार रात करीब 2.30 बजे बाइक क्रमांक एमपी 07 केजी 1976 से डबरा की ओर आ रहे थे। तभी ग्राम इटायल के पास सामने से आ रहे ट्रैक्टर क्रमांक यूपी बी 5043 के चालक बलविंदर सिंह ने टक्कर मार दी। इससे चरण सिंह की मौके पर ही मौत हो गई, वहीं अशोक को घायल अवस्था में ट्रैक्टर चालक बलविंदर ठाकुर बाबा रोड स्थित जगदीश हॉस्पिटल लेकर पहुंचा और भर्ती कराकर भाग गया। चरण सिंह का शव रातभर रोड किनारे पड़ा रहा।
सुबह जब रोड से गुजरने वाले लोगों ने शव को देखा तो इसकी सूचना पुलिस को दी। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर शव को पीएम के लिए भिजवाया। साथ ही जगदीश हॉस्पिटल से अशोक सिंह के शव को लेकर पीएम के लिए भिजवाया। पुलिस ने ट्रैक्टर चालक बलविंदर सिंह के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है।




चीनौर रोड पर दुर्घटना के बाद मौके की जांच करते पुलिस अफसर।

अस्पताल संचालक ने पुलिस को किया गुमराह

सूचना मिलने पर जब एसआई बीएस बंसल अन्य पुलिसकर्मियों के साथ शव लेने जगदीश हॉस्पिटल पहुंचे तो अस्पताल संचालक जगदीश छाबलानी और उनके पुत्र ने किसी का भी शव नहीं होने तथा अंदर जाने से रोक दिया। बाद में पुलिसकर्मी जब अंदर पहुंचे तो अशोक का शव अस्पताल के एक कमरे में मिला। एसआई से जगदीश छाबलानी ने कहा कि हमें नहीं पता इसे कौन छोड़ गया है, हमने तो इलाज भी नहीं किया है। इसके बाद पुलिसकर्मियों ने शव को पीएम के लिए भिजवाया।

डॉक्टर पर होगी कार्रवाई

॥ट्रैक्टर चालक के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है। जहां तक डॉक्टर द्वारा पुलिस को गुमराह करने और अभद्र व्यवहार किए जाने की बात है तो डॉक्टर के खिलाफ भी निश्चित ही कार्रवाई की जाएगी।॥

सुधीर कुशवाह, एसडीओपी, डबरा