• Hindi News
  • पानी है नहीं, पाइप लाइन बिछाने के लिए करा रहे सर्वे

पानी है नहीं, पाइप लाइन बिछाने के लिए करा रहे सर्वे

8 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
नगर संवाददाता - मुलताई

हरदौली जल आवर्धन योजना के तहत अभी तक जलाशय निर्माण के लिए जमीन का अधिग्रहण नहीं हुआ है। इसके पहले ही नगर में इस योजना के तहत पाइप लाइन बिछाने के लिए सर्वे शुरू हो चुका है। शनिवार को महावीर वार्ड में सर्वे का काम चलते रहा। अब तक 13 वार्डों में सर्वे कार्य पूरा हो चुका है। नगरवासियों का कहना है कि योजना के तहत पानी का अतापता नहीं है और इस प्रकार पाइप लाइन बिछाने का सर्वे कर गुमराह किया जा रहा है। नगर की पेयजल समस्या के निदान के लिए 19 करोड़ रुपए की लागत से हरदौली योजना स्वीकृत हुई है। योजना के तहत हरदौली गांव के पास जलाशय, फिल्टर प्लांट, दो पेयजल टंकी और नई पाइप लाइन बिछाई जाना है। जलाशय निर्माण के लिए हरदौली, थावरिया, चैनपुर और खरसाली के 47 किसानों की जमीन प्रस्तावित की गई है। अभी तक किसानों की जमीन का अधिग्रहण नहीं हो पाया है। बगैर जमीन अधिग्रहण के ठेकेदार ने जलाशय का निर्माण भी शुरू कर दिया था। इससे आक्रोशित किसानों ने काम बंद करवा दिया था। इसके बाद से जलाशय का निर्माण कार्य बंद है। अब ठेकेदार ने पाइप लाइन बिछाने के लिए सर्वे कार्य शुरू कर दिया है। आदि एक्वा प्रोजेक्ट प्राइवेट लिमिटेड कंपनी के कर्मचारियों द्वारा वार्डों में सर्वे किया जा रहा है। सर्वे कर रहे कंपनी के साइड इंचार्ज हरी मिस्त्री और जगदीश दवंडे ने बताया कि 15 में से 13 वार्डों में सर्वे कार्य पूरा हो चुका है।

मुलताई। हरदौली जल आवर्धन योजना के तहत पाइप बिछाने के लिए किया जा रहा सर्वे

ऐसे बिछाएंगे पाइप लाइन

नगर पालिका के उपयंत्री सीएल चौरे ने बताया कि पाइप लाइन बिछाने के लिए सर्वे का कार्य ठेकेदार द्वारा कराया जा रहा है। योजना के तहत हरदौली जलाशय से खरसाली मार्ग पर बनने वाले फिल्टर प्लांट तक 250 एमएम की 9 किमी पाइप लाइन बिछाई जाएगी। इसके बाद फिल्टर प्लांट से नेहरू वार्ड में बनने वाली पेयजल टंकी तक 200 एमएम की 4 किमी पाइप लाइन और दूसरी टंकी सिविल लाइन ताप्ती वार्ड में बनाना है यहां तक 6 किमी पाइप लाइन बिछाई जाएगी। दोनों टंकी से नगर में जल प्रदाय के लिए 48 किमी 110 से 200 एमएम की पाइप लाइन बिछाई जाएगी।

सर्वे कर ड्राइंग डिजाइन अनुमोदन के लिए भेजी जाएगी

ठेकेदार पाइप लाइन के लिए सर्वे कर ड्राइंग डिजाइन नगर पालिका को देगी। इसके बाद उक्त ड्राइंग डिजाइन को शासन के पास भेजा जाएगा। शासन द्वारा ड्राइंग डिजाइन का अनुमोदन करने के बाद ही आगे की कार्रवाई की जाएगी।

सीएल चौरे, उपयंत्री



१९ करोड़ रुपए की हरदौली जल आवर्धन योजना के तहत अभी तक जलाशय निर्माण का काम शुरू नहीं हुआ