• Hindi News
  • नैनो टेक्नोलॉजी है भविष्य का हल

नैनो टेक्नोलॉजी है भविष्य का हल

8 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
महू. नैनो टेक्नोलॉजी है भविष्य की तकनीकी चुनौतियों का हल है। इस टेक्नोलॉजी के उपयोग से ऐसे ट्रांजिस्टर बनाए जा चुके हंै जिनका आकार मनुष्य के डीएनए से मात्र चार गुना बड़ा है। यह तकनीक फ्रांस में खोजी जा चुकी है व भारत में अभी जिस तकनीक का उपयोग हो रहा है उससे मनुष्य के बाल की मोटाई के १०वें हिस्से के बराबर ट्रांजिस्टर बनाए जा रहे हैं।

यह बात सुशीलादेवी बंसल कॉलेज ऑफ टेक्नोलॉजी में आयोजित आईईटीई स्टूडेंस फोरम की इनोग्रेशन सेरेमनी में डॉ. आर.सी. दुबे सीईईआरआई पिलानी के वरिष्ठ वैज्ञानिक ने कही। कार्यक्रम में उपस्थित मेजर सिद्धांत शुक्ला एमसीटीई महू में आईईटीई सेंटर के सेकेटरी, प्रो. संजीत श्रीवास्तव आईईटीई सब सेंटर के सेकेट्री एवं पी.एस. राठौर वरिष्ठ इंजीनियर आकाशवाणी इंदौर ने भी विद्यार्थियों को उत्कृष्ट इंजीनियर बनने के लिए प्रेरित किया। कार्यक्रम में सुशीला देवी बंसल कॉलेज के डायरेक्टर डॉ. सुरेश जैन एवं इलेक्ट्रॉनिक्स एंड टेलीकम्युनिकेशन इंजीनियरिंग के विभागाध्यक्ष प्रमेंद्र तिलन्थे ने भी इसी क्षेत्र में हो रही नवीनतम रिसर्च के बारे में अवगत कराया। संचालन प्रो. पुष्पराज सिंह चौहान ने किया। आभार प्रो. दिव्या दुबे ने माना।



महू. एसडी बंसल कॉलेज में आयोजित कार्यक्रम में उपस्थित विद्यार्थी व अन्य।