• Hindi News
  • यूडीए को १०० दिन की योजना बनाने के निर्देश

यूडीए को १०० दिन की योजना बनाने के निर्देश

8 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
भासं. उज्जैन। संभागायुक्त अरुण पांडेय ने मंगलवार को उज्जैन विकास प्राधिकरण ((यूडीए)) में चेयरमैन का प्रभार संभाल लिया। उन्होंने यूडीए के अधिकारियों से पूछा कि क्या-क्या समस्याएं हैं, वित्तीय स्थिति व योजनाओं की क्या स्थिति है। पांडेय ने प्रभारी सीईओ वीके तिवारी को 100 दिन की कार्य योजना बनाने के आदेश भी दिए। उन्होंने अधिकारियों से पूछा कि आपके हाथों में कागज-कलम नहीं है, मैं जो बता रहा हूं, वह सब आप लोगों को याद रहेगा।
विधानसभा चुनाव के बाद 23 दिसंबर को शासन ने यूडीए बोर्ड को भंग कर दिया था। इसके बाद से यूडीए चेयरमैन का पद रिक्त था। संभागायुक्त पांडेय को यूडीए चेयरमैन का प्रभार दिए जाने संबंधी मेल सोमवार को आवास एवं पर्यावरण विभाग से आया था। मंगलवार को पांडेय यूडीए पहुंचे और चेयरमैन का प्रभार संभाला। उन्होंने अधिकारियों से न्यायालयीन प्रकरणों के बारे में जाना। साथ ही आदेश दिए कि प्रकरण के निराकरण होने पर अभिभाषकों का अभिमत लेने के बाद अवगत कराएं। 100 दिवस की कार्य योजना बनाकर उस पर कार्य शुरू करने के लिए भी कहा। चेयरमैन ने यह भी जाना कि कितना क्या स्टॉफ है, कहां, क्या समस्या है। किस योजना की क्या स्थिति है। नया भू-अर्जन अधिनियम आ गया है, उसमें जमीन लेने में मुश्किलें आएंगी, जो योजनाएं लंबित है, उन्हें पूर्ण करें। इस दौरान एसई जेके जैन, कार्यपालन यंत्री रंजन गर्ग, लेखा अधिकारी डीके नीमा, विधि अधिकारी मनीष जोशी व जनसंपर्क अधिकारी पवन गरवाल मौजूद थे।
11 को करेंगे निरीक्षण : चेयरमैन पांडेय 11 जनवरी को प्राधिकरण के निर्माण कार्यों का निरीक्षण करेंगे। इसके बाद योजनाओं का पॉवर प्रजेंटेशन देखेंगे और अधिकारियों के साथ बैठक करेंगे। यातायात नगर की योजना को गति देने के साथ ही प्राधिकरण की आगामी योजनाओं पर चर्चा की जाएगी। साथ ही विभागवार समस्याओं को जाना जाएगा व उनका समाधान किए जाने की कोशिश की जाएगी।
20 को बोर्ड की बैठक : यूडीए बोर्ड की बैठक 20 जनवरी को होगी। बोर्ड बैठक का एजेंडा तैयार है,जिसमें शिप्रा विहार में 28 एलआईजी डुप्लेक्स मकान बनाए जाने,आशियाना को भूखंड आवंटन करने पर पुनर्विचार करने आदि शामिल हैं। एजेंडे में नए कार्य भी जोड़े जा सकते हैं। पुरानी चल रही योजनाओं को गति देने के लिए बोर्ड बैठक में चर्चा होगी।