• Hindi News
  • जीएनकेसीडब्ल्यू और आर्य कॉलेज के 870 स्टूडेंट्स को मिलीं डिग्रियां

जीएनकेसीडब्ल्यू और आर्य कॉलेज के 870 स्टूडेंट्स को मिलीं डिग्रियां

8 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
भास्कर न्यूज - लुधियाना
कंधों पर काला गाउन हाथों में डिग्रियां और आंखों में सुनहरे भविष्य के सपने लिए 470 छात्राओं ने डिग्री हासिल की। मॉडल टाउन स्थित गुरु नानक खालसा कॉलेज फॉर वुमन गुज्जर खान कैंपस ((जीएनकेसीडब्ल्यू)) में एनुअल कन्वोकेशन के दौरान कुछ ऐसा ही नजारा था। कार्यक्रम में गुरु नानक देव यूनिवर्सिटी अमृतसर के वाइस चांसलर डॉ. एसपी सिंह ने मुख्यातिथि के तौर पर शिरकत की।
बीए, बीकॉम, बीसीए और बीबीए के साथ ही एमए, एमकॉम, पीजीडीएमसी और पीजीडीसीए के स्टूडेंट्स को कोर्स पूरा करने पर शुभकामनाओं सहित डिग्रियां दी गईं। प्रो. गुरबीर सिंह सरना के शिक्षा के क्षेत्र में योगदान पर डिजिटल प्रेसेंटेशन दी गई। कॉलेज के स्टाफ ने स्व. प्रो. गुरबीर सिंह सरना को याद किया कॉलेज प्रिंसिपल मनजीत कौर घुम्मण ने मेहमानों का स्वागत किया। मुख्यातिथि ने 8 मेमोरियल मेडल, 11 रोल ऑफ ऑनर, 22 कॉलेज कलर्स और 16 मेरिट सर्टिफिकेट दिए गए। मुख्यातिथि ने प्लेसमेंट ब्रॉशर को रिलीज किया। यूनिवर्सिटी ऑफ दिल्ली के पूर्व हेड डॉ. जगबीर सिंह को पंजाबी साहित्य में उनके योगदान के लिए अवॉर्ड ऑफ ऑनर दिया गया। कॉलेज के जनरल सेक्रेटरी गुरविंदर सिंह सरना ने सभी मेहमानों का धन्यवाद व्यक्त किया।
आर्य कॉलेज की 64वीं कन्वोकेशन के दौरान 400 स्टूडेंट को डिग्रियां प्रदान की गईं। इस मौके पर मुख्य मेहमान एपीजे सत्या यूनिवर्सिटी गुडग़ांव के प्रो. वीसी डॉ. एसी वैद्य थे। मुख्य अतिथि ने दीप प्रज्वलित करके समारोह की शुरुआत की। प्रिंसिपल डॉ. आरसी तेजपाल ने कॉलेज की सालाना रिपोर्ट पढ़ी। कन्वोकेशन के दौरान डॉ. वैद्य ने कहा कि स्टूडेंट में ऐसे गुण होते हैं जिससे समाज की चुनौतियां का सामना किया जा सके। उन्होंने ग्रेजुएट और पोस्ट ग्रेजुएट के स्टूडेंट को डिग्रियां प्रदान कीं। इस मौके पर आर्य प्रतिनिधि सभा के उप प्रधान दविंदर नाथ शर्मा, चौधरी ऋषिपाल सिंह, एडवोकेट अशोक परूथी, आर्य विद्या परिषद के सदस्य उपस्थित थे।