• Hindi News
  • बासी खाना देने पर छात्राओं ने हॉस्टल में किया हंगामा

बासी खाना देने पर छात्राओं ने हॉस्टल में किया हंगामा

8 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
भास्कर न्यूज-!- मानसा
कस्तूरबा गांधी बालड़ी विद्यालय योजना के तहत बुढलाडा के लड़कियों के हॉस्टल में शिक्षा प्राप्त कर रही 65 छात्राओं ने उस समय हंगामा खड़ा कर दिया जब उनको परोसा जा रहा खाना कच्चा व बासी दिया जा रहा था।
भड़की छात्राओं व उनके परिजनों द्वारा हॉस्टल प्रबंधक के खिलाफ जहां नारेबाजी की गई। वहीं प्रबंधों में सुधार की मांग की गई। आक्रोशित छात्राएं मांग कर रही थी कि मौजूदा खाना बनाने वाली कुक महिलाओं को तुरंत निकाला जाए।
इसके अलावा लड़कियों ने आरोप लगाया कि उन्हें कई दिन का पुराना बासी खाना परोसा जाता है, वहां उनके रोजमर्रा प्रयोग में आने वाले कपड़ों की सफाई भी नहीं की जाती। प्रिंसिपल को कई बार इसकी जानकारी दी गई पर कोई सुनवाई नहीं की गई। परिजनों में गुलाब सिंह, काला सिंह, सुखविंदर कौर, दलीप कौर, दर्शना कौर, गुरचेत सिंह, केवल सिंह, मेजर सिंह, सीरा सिंह ने बताया कि हॉस्टल में बच्चों से कुक महिलाओं द्वारा खाना बनाने के लिए भी दबाव बनाया जाता है। यहां साफ-सफाई का भी हाल खराब है। इन्होंने मांग की कि हॉस्टल में कुक को तुरंत बदला जाए, वार्डन सुषमा रानी को तुरंत वापस बुलाया जाए।
प्रिंसीपल हरजीत सिंह सैनी ने बताया कि कुक महिलाओं की शिकायतें उनको अक्सर मिल रही थी। उन्हें समय-समय पर ताडऩा की गई थी, लेकिन आज बच्चों व उनके परिजनों
का गुस्सा देखते नई कुक महिलाओं की नियुक्ति के लिए 11 सदस्य समिति का गठन किया जो कुक का चयन कर एसएमसी कमेटी को सिफारिश करेंगे। वार्डन सुषमा रानी ने परिजनों को भरोसा दिया कि उनके बच्चों की रखवाली पूरी तनदेही के साथ की जाएगी।