• Hindi News
  • ‘सफाई कर्मचारी के होते हुए भी राजां मोहल्ले में सफाई सिर्फ खानापूर्ति’

‘सफाई कर्मचारी के होते हुए भी राजां मोहल्ले में सफाई सिर्फ खानापूर्ति’

8 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
भास्कर न्यूज - नवांशहर
राजां मोहल्ले के लोग मोहल्ले में चरमराई सफाई व्यवस्था के कारण परेशान है। आलम यह है कि बीमारियां फैलने के खतरे में जी रहे हैं। मोहल्ला वासियों का कहना है कि कुछ लोगों ने अपने मकान बनवाकर नालियों को अंडर ग्रांउड कर दिया है। यह नालियां बंद होने पर गंदा पानी सड़क के बीच आ जाता है। सफाई कर्मचारी तो आता है मगर सफाई सिर्फ खानापूर्ति की ही की जाती है।
लोगों का कहना है कि उनके घरों के आगे नालियों की काफी समय से यही हालत बनी हुई है। नालियों का गंदा पानी सीवरेज में डालने के बाद नालियों की सफाई ठीक ढंग से न होने के कारण निकासी बंद हो रही है, जिस कारण गंदे पानी पर मच्छर पनप रहे हैं और उन्हें डेंगू व मलेरिया फैलने का खतरा है।
मोहल्ले के सोम नाथ, राज कुमार, सुभाष कुमार, अश्विनी कुमार, ऊषा रानी, शमा रानी, हरजीत, दर्शना रानी, वीना, सुशील, परमजीत, कृष्णा, दीपक, महिंदर, गुरमेज, आशा रानी, नीलम, संजीव कुमार, विक्की और नवदीप ने कहा कि बरसात के दिनों में समस्या में और बढ़ जाती है। नालियों की सफाई न होने के कारण बारिश का पानी उनके घरों में घुस जाता है, जिससे उनका सामान खराब हो जाता है। बरसात में इस क्षेत्र में दो-तीन फुट पानी भर जाता है।
लोगों ने कहा कि महीने में दो-तीन बार नगर परिषद द्वारा जैट मशीन से सीवरेज को खोलने की कोशिश की गई लेकिन वो नाकाफी साबित हुई। लोगों ने बताया कि मोहल्ले में माता शीतला मंदिर के आगे नालियों के पानी की निकासी न होने के कारण पानी सड़क पर भर जाता है और मंदिर में आने वाले श्रद्धालुओं मुश्किलों का सामना करना पड़ता है। इसके अलावा नालियों में खड़े पानी के कारण उनके घरों की दीवारों में सीलन भी आनी शुरू हो गई है और इमारतों को नुकसान होने का डर है। उन्होंने कहा कि नगर परिषद व स्वास्थ्य विभाग को अपनी जिम्मेदारी समझते हुए समय-समय पर शहर के सभी क्षेत्रों का दौरा करके सफाई व्यवस्था को दुरुस्त करवाने की तरफ कदम उठाना चाहिए। मोहल्ला वासियों ने नगर परिषद प्रशासन औ्र स्वास्थ्य विभाग से मांग की है कि मोहल्ले में सफाई व्यवस्था दुरुस्त करवाया जाए ताकि उनको साफ व स्वच्छ वातावरण मुहैया हो सके।



॥सीवरेज की ब्लॉकेज के कारण नालियों में पानी भरा रहता है जिसे एक दो दिन में जैट मशीन से साफ करवाकर पानी की निकासी को दुरुस्त करवा दिया जाएगा।ञ्जञ्ज

करण सिंह, सैनेटरी इंस्पेक्टर नगर परिषद, नवांशहर

नवांशहर के राजां मोहल्ले में शीतला माता मंदिर के आगे सड़क पर खड़ा गंदा पानी।