• Hindi News
  • शहर को साफ करने के दावे पर उठे सवाल

शहर को साफ करने के दावे पर उठे सवाल

8 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
भास्कर न्यूज. अलवर
नगर परिषद की ओर से चल रहे सफाई अभियान के तहत शहर को क्लीन करने 1150 टन मलबा व 750 टन अतिरिक्त कचरा गोलेटा स्थित ग्राउंड में डालने का दावा किया किया गया है। परिषद का कहना है कि 17 दिन से चल रहे सफाई अभियान के तहत उन्होंने शहर को साफ रखने में सफल पहल की है। हालांकि परिषद का बेहतर काम का दावा है पर कलेक्टर ने मंगलवार को इस पर नाराजगी जताते हुए धीमी गति की बात करके इसे बेहतर करने के निर्देश दिए है।
इसके लिए गोलेटा टचिंग ग्राउंड से वास्तविकता का पता चला। परिषद के इस दावे में कुछ सच्चाई और कुछ बढ़ा चढ़ा कर की जा रही बात सामने आई है। शहर में कई स्थानों पर सफाई होने के साथ कई मुख्य मार्ग अब साफ आने लगे है तो शहर की दशा ज्यों की त्यों बनी है। नगर परिषद की ओर से दावा किया जा रहा है कि शहर से 1900 टन कूड़ा बाहर गोलेटा के टचिंग ग्राउंड में डाला गया। टचिंग ग्राउंड पर कूड़ा ले जाने वाले वाहनों के चालकों व स्थानीय ग्रामीण से हुई बातचीत से मिली जानकारी के अनुसार परिषद की ओर से प्रतिदिन तीन वाहन, पांच से छह चक्कर लगाते हैं। सफाई अभियान शुरू होने के बाद तीन डंपरों के फेरे सात से नौ हो गए है। अधिकतम 81 टन कूड़ा प्रतिदिन शहर से अतिरिक्त बाहर जा रहा है। 17 दिन में कुल 1377 टन कूड़ा शहर से निकलकर टचिंग ग्राउंड तक पहुंचा। परिषद की ओर से 1900 टन का दावा किया जा रहा है। आखिर 523 टन कूड़ा कहां गया।