• Hindi News
  • तीन महीने की एडवांस फीस नहीं ले सकेंगे स्कूलशिक्षा विभाग ने जारी की गाइड लाइन, एक माह में देना होग

तीन महीने की एडवांस फीस नहीं ले सकेंगे स्कूलशिक्षा विभाग ने जारी की गाइड लाइन, एक माह में देना होगा शपथ पत्र

8 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
अलवर। निजी स्कूल अब न तीन महीने की फीस एडवांस ले सकेंगे न ड्रेसेस निर्धारित दुकानों से खरीदने के लिए अभिभावकों को बाध्य कर सकेंगे। इसके अलावा दस तारीख के बाद फीस जमा कराने पर किसी भी तरह का कोई जुर्माना वसूल नहीं किया जा सकेगा। प्राथमिक एवं माध्यमिक शिक्षा विभाग ने इस संबंध में गाइड लाइन जारी की है। गाइड लाइन के निर्देशों की पालना सुनिश्चित करने के लिए जिला शिक्षा अधिकारियों को निर्देशित किया गया है। गाइड लाइन के मुताबिक निजी स्कूल संचालकों को एक माह में माध्यमिक/प्रारंभिक बीकानेर एवं संस्कृत शिक्षा विभाग जयपुर को शपथ पत्र देना होगा। यह शपथ पत्र जिला शिक्षा अधिकारी द्वारा उपलब्ध करवाया जाएगा, जिसे भरकर नोटरी पब्लिक से सत्यापित करवाना होगा। शपथ पत्र में यह भी स्पष्ट करना होगा कि निजी विद्यालयों द्वारा प्रस्तावित फीस न्याय संगत है और मुनाफाखोरी या अत्यधिक फीस की श्रेणी में तो नहीं आती है।

गाइड लाइन में यह निर्देश

-निजी स्कूल पुस्तक व कॉपियां एक पुस्तक विक्रेता को एंगेज कर नहीं बेच सकेगा। बेची गई पुस्तकों पर कमीशन नहीं लिया जा सकेगा। छात्र द्वारा मांगने पर कैश मेमो भी देना होगा।

-निजी स्कूल द्वारा स्कूल ड्रेसेस खरीदने के लिए निर्धारित दुकानों के लिए बाध्य नहीं किया जा सकेगा।

-स्कूल में बैज व टाई खरीदना अनिवार्य नहीं होगा।

-माता पिता या अभिभावक को स्कूल में प्रवेश की पूरी अनुमति होगी, ताकि

स्कूल की सुविधाओं की जांच हो सके।

-स्कूल की कैंटीन में पेटीज, आइस्क्रीम व अन्य खाद्य पदार्थ जो अनहाइजेनिक होते हैं, नहीं बेचे जा सकेंगे।

-अभिभावकों से स्कूल लाने-ले जाने के लिए 12 माह की फीस ली जाती है,

जो गलत है। निर्धारित समय की ही फीस वसूली जानी होगी।