• Hindi News
  • स्कूल संचालक सफाई दें वरना कार्रवाई

स्कूल संचालक सफाई दें वरना कार्रवाई

8 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
श्रीगंगानगर. जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय की ओर से मनमानी करने वाले प्राइवेट स्कूलों को अंतिम चेतावनी दी जाएगी। अगर इसके बाद भी स्कूल संचालकों की मनमानी जारी रही, तो विभाग इन स्कूलों की एनओसी वापस लेने की अनुशंसा भी शिक्षा निदेशालय को कर सकता है। अतिरिक्त जिला शिक्षा अधिकारी ((माध्यमिक)) शिवशंकर बिश्नोई ने बताया कि बार-बार स्कूल संचालकों को रिमांइडर देने के बाद भी वे शपथ-पत्र व उनके द्वारा स्कूलों में पढ़ाई जानी वाले किताबों की जानकारी विभाग को नहीं दे रहे हैं। जिले में शपथ-पत्र न देने वाले 250 से भी अधिक स्कूल हैं, इसके साथ ही किताबों की जानकारी 493 स्कूलों ने जमा नहीं कराई है। विभाग के अनुसार राज्य सरकार ने फरवरी से सभी निजी स्कूलों से शिक्षा विभाग में शपथ-पत्र जमा कराने को कहा था। शपथ-पत्र में स्कूल संचालकों ने फीस, कैंटीन, यूनिफॉर्म, बुक्स व स्टेशनरी संबंधी विभाग के लागू नियमों की पालना के बारे में बताना था। इन नियमों का पालन करने की शपथ भी लेनी थी। जिले के करीब 500 स्कूलों ने ऐसे शपथ-पत्र शिक्षा विभाग को देने थे, लेकिन 250 से ज्यादा स्कूलों ने शपथ-पत्र जमा नहीं कराए। इसके साथ ही किताबों की जानकारी तीन दिन में देने के लिए सात अप्रैल को सभी स्कूलों को लिखा था, लेकिन अभी तक केवल दो ही स्कूलों ने जानकारी दी है।



शपथ पत्र व पुस्तकों की सूची जमा नहीं कराने वाले स्कूलों को अंतिम अवसर