• Hindi News
  • तबले के जरिए मुक्ति संदेश

तबले के जरिए मुक्ति संदेश

8 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
क सिटी रिपोर्टर जयपुर
शहर के संगीत प्रेमी मंगलवार को तबला वादन के एक नए रूप से रूबरू हुए। इसमें तबले के माध्यम से कलाकार ने लोगों को मुक्ति का संदेश दिया। मौका था जवाहर कला केंद्र के रंगायन में इंडियन फ्रेंच कल्चरल सोसाइटी की ओर से आयोजित तबलाट्रोनिक लाइव कंसर्ट का। इसमें मॉरीशस के फनकार सुभाष धूनूचंद ने तबले के साथ गायन और सरोद को वेस्टर्न इलेक्ट्रॉनिक म्यूजिक के साथ बड़ी ही खूबसूरती से लोगों के सामने प्रस्तुत किया। कलाकार ने तबले पर लयकारी के कई रूपों को प्रदर्शित किया। उनके वादन में तबले की वो सभी तकनीकी बातें थीं, जो हिंदुस्तानी तबला वादन शैली में होती हैं। शो के दौरान उन्होंने अपना ट्रैक ‘आनंदा’ प्ले किया, जिसका सरोद वादन उस्ताद अमजद अली खान के शिष्य मुकेश शर्मा ने किया। इस कंसर्ट के दौरान उनके द्वारा प्ले किए गए सभी ट्रैक्स उनके प्रोजेक्ट ‘मोक्ष’ का महत्वपूर्ण हिस्सा हैं। अपने इस फ्यूजन के बारे में सुभाष का मानना है कि इसे एक सिंपल फॉर्म में वे लोगों के समक्ष ला रहे हैं ताकि लोग आसानी से इसे एक्सेप्ट कर सकें। इनके अनुसार ‘मोक्ष’ के माध्यम से दिमाग पर छाई माया की परछाई को आसानी से दूर किया जा सकता है। इस पूरे प्रोजेक्ट की रिकॉर्डिंग सुभाष ने रशिया, यूरोप, लेटिन अमेरिका और भारत में की है। अप्रैल 2014 में वे इसे लॉन्च करेंगे।