• Hindi News
  • रजिस्ट्री में फर्जीवाड़ा किया तो भूखंड आवंटन किया रद्द

रजिस्ट्री में फर्जीवाड़ा किया तो भूखंड आवंटन किया रद्द

8 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
भास्कर न्यूज-!-कोटा
यूआईटी ने स्टेशन रोड पर दो साल पहले सवा 3 करोड़ रुपए में नीलाम किए गए प्लाट का आवंटन रद्द कर दिया है।
रद्द करते हुए यूआईटी ने कहा है नीलामी दाता फर्म ने गलत तरीके से कंपनी बनाकर रजिस्ट्री करवाई थी। इसमें यूआईटी के कर्मचारियों की मिलीभगत सामने आ रही है। मामला एसीबी में चल रहा है। एसीबी ने भी यूआईटी से इस संबंध में रिकॉर्ड लिया है। एडवोकेट रामबाबू मालव ने एसीबी में परिवाद दिया था। इसमें यूआईटी को 5 करोड़ की हानि होने की बात कही है। एसीबी के एएसपी देवेंद्र शर्मा ने बताया कि मालव ने परिवाद दिया था कि मनोज टॉकिज वाली भूमि पर यूआईटी ने व्यवसायिक प्लॉट की नीलामी 19 अक्टूबर 2011 को की गई थी। इसको मैसर्स ओरबिट एंटरप्राइजेज के पार्टनर ओमवती एवं मंजू के पक्ष में छोड़ी गई। इसकी कीमत 3 करोड़ 21 लाख 39 हजार 440 थी। एसीबी मामले की जांच कर रही है और रिकॉर्ड ले लिए गए हैं, जिनकी भी जांच की जा रही है। मालव का आरोप है कि नीलामी गलत तरीके से की गई है।