• Hindi News
  • स्कूल की 12 साल से नहीं सुनी, खुद को जरूरत हुई तो एक दिन में हटाया अतिक्रमण

स्कूल की 12 साल से नहीं सुनी, खुद को जरूरत हुई तो एक दिन में हटाया अतिक्रमण

8 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

कोटा. 12 साल से लगातार शिकायतों के बाद भी मल्टीपर्पज स्कूल के जिस अतिक्रमण को नहीं हटाया जा सका, चुनाव के लिए जरूरत पड़ी तो जिला प्रशासन ने शनिवार को उसे एक दिन में हटा दिया। हालांकि अब भी केवल उन झोंपडिय़ों को ही हटाया गया है, जो वाहन खड़े होने में परेशानी बन रहे थे। परिसर में हुए पक्के कब्जों को तो अब भी छेड़ा तक नहीं गया।

स्कूल में फिलहाल लोकसभा चुनाव की गतिविधियां चल रही हैं। शुक्रवार को कलेक्टर जोगाराम को अधिकारियों ने बताया कि वाहन खड़े नहीं हो पा रहे हैं। कलेक्टर ने यूआईटी के उपसचिव भवानीसिंह पालावत को आदेश दिए तो शनिवार को सुबह ही सभी अतिक्रमणों को तोड़ दिया। जिला शिक्षा अधिकारी गंगाधर मीणा ने बताया कि अतिक्रमण हटाने के लिए काफी समय से प्रयास किए जा रहे हैं। कई बार पत्र भी लिखे गए हैं। अब यह हटाए गए हैं। पूर्व में इन्हें क्यों नहीं हटाया गया, पता नहीं।

शहर के अतिक्रमणों पर ध्यान नहीं
कलेक्टर ने शहर में अतिक्रमण हटाने के लिए चार टीमें बनाई हुई हैं। लेकिन, ये काम नहीं कर रही। जवाहरनगर का नाला हो या रामधाम आश्रम के पीछे का हिस्सा। अनंतपुरा क्षेत्र हो या प्रेमनगर का नाला जगह-जगह अतिक्रमण हो रहे हैं।